• Hindi News
  • टीकाकरण और संस्थागत प्रसव के बारे में दी जानकारी

टीकाकरण और संस्थागत प्रसव के बारे में दी जानकारी

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज क्च रावतभाटा
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रावतभाटा में मंगलवार को चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों की मासिक बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर जी जे परमार ने समस्त स्टाफ को टीकाकरण व संस्थागत प्रसव के बारे में निर्देश दिए। जिससे मातृ मृत्यु व शिशु मृत्यु दर को कम किया जा सके। सभी हाई रिस्क एरिया में टीम द्वारा गर्भवती महिला एवं बच्चों के टीकाकरण करने, स्टाफ को मुख्यालय पर रहने के लिए पाबंद किया। मौसमी बीमारियों को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रावतभाटा रेपिड रिस्पोंस टीम का गठन कर सूचना मिलने पर त्वरित गति से आवश्यक स्टाफ एवं औषधियों के साथ पहुंचने के लिए कहा।
बैठक में डॉक्टर महेंद्र सैनी, डॉक्टर अंजुरी गोयल, डॉक्टर मुरलीधर यादव, डॉक्टर स्वप्निल गुप्ता, डॉक्टर मुरलीधर यादव, डॉक्टर राजेश भरतिया एवं स्टाफ मौजूद था।
रावतभाटा में नसबंदी कैंप आज - सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रावतभाटा में बुधवार को नसबंदी कैंप लगाया जाएगा।
इसके अलावा 15,22 जनवरी को भी रावतभाटा में कैंप लगाया जाएगा। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जावदा में 25, उपकेंद्र एकलिंगपुरा में 29 जनवरी को, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बोराव में 18 जनवरी नसबंदी कैंप लगाया जाएगा। सभी कर्मचारियों को कैंपों में नसबंदी के शतप्रतिशत लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए निर्देश दिए गए।
20207 बच्चों को खुराक पिलाई जाएगी
19 से 21 जनवरी तक राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान आयोजित किया जाएगा। जिसमें खंड के लगभग 20207 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जिसमें प्रथम दिन बूथ पर एवं द्वितीय दिवस घरघर जाकर वंचित रहे 0-5 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रावतभाटा पर 40 बूथों पर 5 सुपरवाइजर, 40 दल एवं 80 कर्मचारियों को नियुक्त किया गया है। जहां अनुमानित 5320 बच्चों को दवा पिलाई जाएगी। बसस्टेंड पर ट्रांजिट दल 6, 12 वर्कर दुर्गम क्षेत्र ईंटभट्टे, क्रेशर एवं अन्य स्थानों के लिए 2 मोबाइल दलों 4 वर्कर का गठन किया गया है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भैंसरोडगढ़ के 26 बूथों पर 3505, मंडेसरा के 20 बूथों पर 1885, बोराव में 23 बूथों पर 3250, लाड़पुरा में 31 बूथों पर 3300, जावदा में 28 बूथों पर 2947 बच्चों को दवा पिलाई जाएगी।