• Hindi News
  • रिश्वत लेने के आरोपी जेईएन को जेल भेजा

रिश्वत लेने के आरोपी जेईएन को जेल भेजा

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ब्यावर-!-नक्शा पास कराने के लिए मौका रिपोर्ट बनाने की एवज में 10 हजार रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार जेईएन को मंगलवार को जेल भेजा। इधर कार्यालय में दबिश कार्रवाई के बाद एसीबी टीम ने आरोपी के घर की भी तलाशी ली थी।
एसीबी अजमेर की टीम ने महेशचंद अग्रवाल की शिकायत की पुष्टि होने पर सोमवार को जाल बिछाया था।
केमिकल लगे रिश्वत के नोट जैसे ही जेईएन मनीष सांगेला ने हाथ में थामे शिकायतकर्ता का इशारा पर एसीबी टीम ने जेईएन को रंगे हाथों धर दबोचा था।

परिषदकर्मी इस बात को लेकर दूसरे दिन भी हैरत में रहे कि सभागार में तो एक ओर तो शहर की सरकार साधारण सभा की बैठक ले रही थी, दूसरी ओर एसीबी की यह कार्रवाई हो गई। इसकी किसी को भी कुछ देर तक तो कानों-कान खबर नहीं लगी। थाने ले जाने के बाद आरोपी जेईएन के हाथ धुलाए गए तो नोटों पर लगा केमिकल उसके हाथ में लगे होने की पुष्टि हो गई। साथ ही रिश्वत की रकम भी उसके पास से बरामद हो गई। एसबीसी ने इस आधार पर उसे रिश्वत लेने का आरोपी मानते हुए गिरफ्तार किया था। सोमवार देर शाम तक टीम आरोपी जेईएन के घर पर भी पहुंची और तलाशी ली। मंगलवार को उसे एसीबी कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
दूसरे दिन भी सकते में रहे कर्मचारी
परिषद के इंजीनियर पर हुई एसीबी कार्रवाई के बाद दूसरे दिन भी परिषद के कुछ कर्मचारी सकते में रहे। हालात यह थे कि कुछ ने तो अनजान नंबरों को इग्नोर कर दिया। मालूम हो कि परिषद कार्यालय में कुछ माह पहले ही एसीबी की जयपुर टीम जांच के लिए पहुंची थी।