• Hindi News
  • जयपुर में सर्विस टैक्स वसूली की सर्वाधिक ग्रोथ

जयपुर में सर्विस टैक्स वसूली की सर्वाधिक ग्रोथ

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शिशिर चौरसिया -!- नई दिल्ली
सर्विस सेक्टर की बात अगर होती है तो लोग मुंबई, दिल्ली और चेन्नई की बात करते हैं। दिल्ली के अलावा अन्य उत्तर भारतीय शहरों की बात करें तो चंडीगढ़ ((हरियाणा के पंचकुला और पंजाब के मोहाली समेत)) और लखनऊ की बात होती है। लेकिन आपको यह जानकर बेहद आश्चर्य होगा कि अब इस क्षेत्र में राजस्थान की राजधानी जयपुर और मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल नए डेस्टिनेशन बनकर उभरे हंै। इन शहरों ने चंडीगढ़ और लखनऊ जोन को पीछे छोड़ दिया है। इस बात का खुलासा वित्त मंत्रालय द्वारा तैयार सर्विस टैक्स वसूली के आंकड़ों से हुआ है। वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग की तरफ से एनएसडीएल आंकड़ों का संग्रहण करती है। एनएसडीएल द्वारा वित्त वर्ष 2013-14 के अप्रैल से नवंबर तक के लिए तैयार आंकड़ों को देखें तो सर्विस टैक्स वसूली में देश के 12 शीर्ष जोनों में अब जयपुर और भोपाल शामिल हो गए हैं। हालांकि इस सूची में शीर्ष पर मुंबई, दिल्ली और चेन्नई आज भी कायम हैं। भोपाल जोन में सर्विस टैक्स वसूली की वृद्धि दर 19.9 फीसदी है। राष्ट्रीय स्तर पर देखा जाए तो मुंबई जोन अब भी नंबर वन है जिसका योगदान कुल वसूली में 34.4 फीसदी है।



इस वर्ष नवंबर तक वहां से 62,000 करोड़ रुपये की वसूली हो चुकी है। दिल्ली जोन भी दूसरे स्थान पर है जहां आलोच्य अवधि के दौरान 36,000 करोड़ रुपये की वसूली हुई। इस साल मुंबई में 10.7 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है जबकि दिल्ली क्षेत्र में 12.5 फीसदी की।