• Hindi News
  • रांची की जेल का सच : ठग को वीआईपी सुविधा, आम कैदी को झोपड़ी

रांची की जेल का सच : ठग को वीआईपी सुविधा, आम कैदी को झोपड़ी

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रंजन। रांची
देश की जेलों में खास कैदियों को वीआईपी सुविधा और सामान्य कैदी को छोटी-मोटी जरूरी चीजें भी न देने के आरोप अक्सर लगते रहे हैं। होटवार स्थित बिरसा मुंडा जेल के भीतर की ये तस्वीरें इन आरोपों को सच साबित कर रही हैं। टीवी, आरामदायक कुर्सी, कालीन, आलीशान बेड और अन्य सुविधाओं से सुसज्जित वार्ड नामी ठग विश्वजीत डे का है। यहां उसे किसी बात की कोई कमी नहीं है। जबकि, एक दूसरे कैदी को सिर छिपाने के लिए बिस्तर तो छोड़ो कंक्रीट की छत तक मुहैया नहीं है। उसे झुग्गी बनाकर गुजारा करना पड़ रहा है। दैनिक भास्कर को ये तस्वीरे जेल के सूत्रों से हासिल हुई हैं।


ऐसा है ठग विश्वजीत डे का वार्ड

भास्कर का खुलासा

दिल का मरीज है डे

विश्वजीत डे हृदय रोगी है। 20 दिनों से रिम्स में एडमिट है। वजन दो क्विंटल होने से वह सामान्य बेड पर नहीं रह सकता। इसके लिए पटरी लगाकर उसका बेड बढ़ाया गया है। उसे कार्डियक चेयर दी गई है। जहां तक टीवी की बात है तो हर वार्ड में यह उपलब्ध है।ञ्जञ्ज

- नरेंद्र सिंह, जेलर

बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागृह, रांची



इधर, पॉलिथीन की छत और जमीन का बिस्तर