• Hindi News
  • जेल में शराब पार्टी पर छापा

जेल में शराब पार्टी पर छापा

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चित्तौडग़ढ़. भीलवाड़ा बाइपास के समीप स्थित जिला जेल परिसर में हत्या के मामले में बंद रहे आरोपी के साथ जेल अधिकारी द्वारा सरकारी क्वार्टर में शराब पार्टी करने की सूचना पर एसडीएम व डीएसपी ने छापा मारा। जेल अधिकारी व आरोपी का अस्पताल ले जाकर मेडिकल कराया गया।

शुक्रवार रात करीब 10 बजे किसी ने अधिकारियों को सूचना दी कि जिला जेल में स्थित सरकारी क्वार्टर पर जेल डीएसपी गोविंदसिंह जमानत पर छूटे पूर्व बंदी राजेंद्र बुंदवाल के साथ शराब पार्टी कर रहे हैं। राजेंद्र का बेटा जितेंद्र अभी भी जिला जेल में ही बंद है।

इस सूचना के बाद एसपी प्रसन्नकुमार खमेसरा के निर्देश पर एसडीएम उत्तमसिंह शेखावत, डीएसपी कानसिंह भाटी, शहर कोतवाल ज्ञानेंद्रसिंह जिला जेल पहुंचे। वहां क्वार्टर के बाहर राजेंद्र बुंदवाल का वाहन पड़ा था। अंदर क्वार्टर में बुंदवाल शराब पीता हुआ मिला। एसडीएम शेखावत व डीएसपी भाटी जेल डीएसपी व बुंदवाल को लेकर श्री सांवलियाजी सामान्य अस्पताल पहुंचे। वहां डॉक्टर ने दोनों का मेडिकल किया।

मेडिकल जांच में जेल डीएसपी गोविंदसिंह द्वारा अल्कोहल सेवन करने की बात सामने नहीं आई। बुंदवाल की जांच में अल्कोहल सेवन पाये जाने पर उसे कोतवाली पुलिस ने शांतिभंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। गोविंदसिंह के क्वार्टर में शराब पार्टी चलने संबंधी रिपोर्ट जेल विभाग के अधिकारियों को भेजी जाएगी।

जेल के दो प्रहरियों के खिलाफ काफी समय से बंदियों को नियम विरुद्ध अनुचित सामान पहुंचाने, परिजनों से अनुचित लाभ लेने की शिकायतों पर उच्चाधिकारियों को अवगत करवाया गया। शुक्रवार को दोनों को अन्य जेल में भेजने तथा रिलीव होने के आदेश दिए गए। इससे खफा इन प्रहरियों ने कलेक्ट्रेट पर मिले राजेंद्र बुंदवाल को भड़काया कि उसके बेटे जितेंद्र के साथ जेल में मारपीट हुई है। राजेंद्र बुंदवाल रात को जेल पहुंचकर बेटे से मिलवाने की जिद करने लगा। नशे की हालत में राजेंद्र बुंदवाल क्वार्टर के बाहर आकर बेटे से मिलने के लिए हंगामा करने लगा। इसका फायदा उठाते हुए दोनों प्रहरियों ने फंसाने के लिए अधिकारियों को सूचना दे दी। प्रकरण में मैं निर्दोष हूं।