• Hindi News
  • कोहरे ने रफ्तार पर कसी लगाम

कोहरे ने रफ्तार पर कसी लगाम

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज. सवाई माधोपुर
गत दिनों हल्की मावठ होने से कोहरे का क्रम मंगलवार को भी जारी। घने कोहरे के कारण नजदीक के वाहन भी नजर नहीं आने से वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। सोमवार शाम ढलते ही शहर कोहरे के आगोश में आ गया। मंगलवार सुबह जैसे ही लोग उठकर घरों से बाहर निकले तो अपने आप को घने कोहरे के बीच लिपटा पाया। सुबह भ्रमण पर जाने वाले लोगों के कपड़े ओस गिरने के कारण गीले हो गए। वहीं गलन बढऩे से लोग सर्दी से बेहाल हो गए। हालांकि दोपहर बाद धूप निकलने पर लोगों को सर्दी से थोड़ी राहत मिली। पिछले कई दिनों से आसमान में बादल छाए रहने व सूर्यदेव के दर्शन नहीं होने से पशु पक्षी भी हाल बेहाल थे, लेकिन मंगलवार को दोपहर बाद धूप निकलने से पक्षियों ने भी हवा में पंख फैलाकर धूप का आनंद लिया, वहीं लोगों ने मकानों की छतों पर बैठकर धूप का सेक किया। कई स्थानों पर लोग अलाव जलाकर सर्दी से निजात पाने की कोशिश कर रहे थे। वहीं बाजारों एवं सड़कों में महिलाएं तथा पुरुष गर्म कपड़ों में लिपटे नजर आए।
वाहन चालकों को जलानी पड़ी लाइटें : सुबह घना कोहरा छाने से नजदीक की वस्तुएं भी दिखना मुश्किल हो गया। दृश्यता कम होने के कारण वाहन चालकों को लाइटें जलानी पड़ी। कोहरे में सबसे ज्यादा परेशानी दुपहिया वाहन चालकों को उठानी पड़ी। वहीं बड़े वाहन रेंगते हुए निकले।
ठंड से जनजीवन अस्त-व्यस्त
गंगापुर सिटी ((नसं)) -!- पिछले एक सप्ताह से पड़ रही सर्दी और कोहरे का असर कम पडऩे का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को घना कोहरा छाया रहा साथ ही कड़ाके की सर्दी से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। सुबह बिस्तरों से बाहर निकलने पर लोगों ने स्वयं को घने कोहरे में लिपटा पाया। कोहरे का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि थोड़ी दूर पर ही लोग नजर नहीं आ रहे थे। इस दौरान वाहन चालकों को दिन के समय भी लाइटें जलानी पड़ी। दूसरी ओर कोहरे व ठंड के कारण लोग देरी से बिस्तरों से उठे जिसके कारण बाजार भी देरी से खुले। शाम को भी दुकानदार दुकानों को बंद कर जल्दी घर चले गए। शाम 7:30 बजे बाद तो सड़के सुनसान दिखाई देने लगी और इक्के दुक्के वाहन चलते दिखाई दिए, जिससे ऐसा लगने लगा जैसे शहर में कफ्यू लग गया हो। लोग गर्म कपड़ों में लिपटे दिखाई दिए।