• Hindi News
  • रात्रि जागरण के साथ रंगीला मेले का समापन

रात्रि जागरण के साथ रंगीला मेले का समापन

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फुलेरा. ग्राम काचरोदा के खाटूश्याम मंदिर में श्रीश्याम सेवा ट्रस्ट के तत्वावधान में श्याम प्रभु का 25वां रजत जयंती वार्षिक रंगीला मेला सोमवार को रात्रि जागरण के साथ संपन्न हुआ।
कार्यक्रम का शुभारंभ श्याम प्रभु की शोभायात्रा के साथ हुआ। शोभायात्रा न्यू कॉलोनी के गणेश मंदिर से रवाना होकर कस्बे के विभिन्न मार्गों से होकर काचरोदा पहुंची। वहां श्याम प्रभु की झांकी दर्शन हुए और मेला भरा। इस मौके पर छप्पनभोग की भी झांकी सजाई गई। रात्रि 9 बजे क्षेत्रीय विधायक निर्मल कुमावत ने अखंड ज्योत जागरण का शुभारंभ किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नगर पालिका बगरू के पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल कुमावत थे। विशिष्ट अतिथि राज्य वर्धन सिंह राठौड़, सरपंच भजनलाल कुमावत, सुलोचना देवी, ताराचंद कुमावत, दिनेश कुमावत थे। बावलिया बाबा ईरोलाव गौशाला के संस्थापक प्रकाश सर्राफ ने आशीर्वचन दिए। भजन संध्या में गायक प्रकाश चोपड़ा ने गणेश वंदना की।
इसके बाद गायिका उमा लहरी, पूजा व वंदना शर्मा ने बाबा मैं तेरी कौन लागूं, थाली भरकर ल्याई खीचड़ो, भटिंडा से गायक दीपक सिंगला, फुलेरा से गायक कमलेश शर्मा ने खाटू के बाबा एक बार आजा... आदि भजनों की प्रस्तुति देकर श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में दिल्ली के गौरव महादेव ग्रुप ने शिव तांडव, कृष्ण सुदामा, राधा कृष्ण, मीरा-कृष्ण आदि की झांकियां प्रदर्शित कर लोगों को आनंदित किया। मंच संचालन महामंत्री एडवोकेट महेंद्र कुमावत ने किया। इस मौके पर ट्रस्ट अध्यक्ष चेतन प्रकाश बड़ीवाल, प्रणव कयाल, किरण बंजारा, त्रिलोक चंद डांगरा, देवकी नंदन अग्रवाल, राजकुमार गुप्ता, जगन्नाथ, पवन, निर्मल शर्मा आदि ने अतिथियों व सहयोग करने वालों का सम्मान किया।
हनुमान शोभायात्रा कल
चाकसू. कोथून के हनुमान मंदिर में हनुमान जयंती पर कई धार्मिक कार्यक्रम होंगे। कार्यक्रम की शुरुआत १४ अप्रैल को रामचरित मानस पाठ के साथ की जाएगी। जयंती पर हनुमानजी को सिंदूरी चोला चढ़ाकर छप्पन भोग झांकी सजाई जाएगी। शाम को हनुमानजी की शोभायात्रा निकाली जाएगी।
ज्योतिबा फुले को याद किया
नरैना. कस्बे में महात्मा ज्योतिबा फुले क्षत्रिय माली ((सैनी)) सामाजिक एवं शैक्षणिक संस्थान की ओर से भंवरलाल अजमेरा के मुख्य आतिथ्य में फुले जयंती मनाई गई। समाजबंधुओं ने फुले की मूर्ति पर पुष्प अर्पित किए। संचालन गोपाल जादम ने किया।



काचरोदा खाटू श्याम मंदिर में 25वां रजत जयंती समारोह