• Hindi News
  • Chandigarh Zilla
  • Morinda
  • मिनिस्ट्रियल स्टाफ ने मांगों को लेकर एसडीएम दफ्तर के बाहर की नारेबाजी
--Advertisement--

मिनिस्ट्रियल स्टाफ ने मांगों को लेकर एसडीएम दफ्तर के बाहर की नारेबाजी

कर्मचारी यूनियन की तरफ से मांगों के संबंध में कलमछोड़ हड़ताल दूसरे दिन भी की गई। एसडीएम दफ्तर के बाहर पंजाब सरकार के...

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:05 AM IST
मिनिस्ट्रियल स्टाफ ने मांगों को लेकर एसडीएम दफ्तर के बाहर की नारेबाजी
कर्मचारी यूनियन की तरफ से मांगों के संबंध में कलमछोड़ हड़ताल दूसरे दिन भी की गई। एसडीएम दफ्तर के बाहर पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई।

यूनियन नेताओं ने कहा कि सरकार के साथ पीछे हुई मीटिंगों के दौरान ज्यादातर वित्तीय और गैर वित्तीय मांगों पर सहमति बनने के बावजूद भी सरकार ने लागू नहीं की और वह मांगें लंबित पड़ी हैं। पंजाब के सदर दफ्तरों के अलावा 23 के करीब ऐसी सब डिवीजन -तहसीलें हैं, जहां सरकार के निर्धारित नार्मज से दो तिहाई कम स्टाफ के साथ काम चलाया जा रहा है। 2016 में नई बनीं सब डिवीजनों -तहसीलों जिनमें’ भिक्खीविंड, कलानौर, भवानीगढ़, दिड़बा, मोरिंडा, दूधन साधा, अहमदगड़, मजीठा के लिए नार्मज एक्ट मुताबिक 8 सुपरिटेंडेंट ग्रेड 2, 24 सीनियर सहायक, 168 क्लर्क, 8 जूनियर स्केल स्टेनोग्राफर, 8 स्टेनोटाईपिस्ट, 16 चालक, 160 सेवक, 16 स्वीपर कम सेवक और 8 माली की पोस्टें मंजूर नहीं की हुई। इस दौरान सुपरिटेडेंट अमरीक सिंह, रीडर सुदर्शन सिंह, राम कुमार, राकेश कपिला, अमरीक सिंह, गुरशरन कौर, दीपक सिंह, शशि, जसबीर सिंह, जसदीप सिंह, मनमीत सिंह, अरमनदीप सिंह, निशांत, जतिन्दर सिंह, राजेश कुमार, रविंदर सिंह और मेजर सिंह हाजिर थे।

आनंदपुर साहिब में एसडीएम दफ्तर के बाहर नारेबाजी करते कर्मचारी।

X
मिनिस्ट्रियल स्टाफ ने मांगों को लेकर एसडीएम दफ्तर के बाहर की नारेबाजी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..