--Advertisement--

ससुराल सिमर की 'परी' ने जीता कलर्स गोल्डन पैटल अवार्ड, ऐसे पहुंचीं यहां तक

जब मैंने अभिनय की दुनिया में कदम रखा, तो मेरा लक्ष्य साफ था। मैं अभिनेत्री बनना चाहती थी, लेकिन नाकामी से हार कर वापस जाने की बजाय मैं यहां अपने कदम जमाने के इरादे से आई थी। मैंने लघु फिल्मों से लेकर टीवी या विज्ञापन फिल्मों तक में काम किया

Dainik Bhaskar

Apr 20, 2017, 09:03 AM IST
actress shweta sinha Won Colors Golden Petal Award
नागपुर. जब मैंने अभिनय की दुनिया में कदम रखा, तो मेरा लक्ष्य साफ था। मैं अभिनेत्री बनना चाहती थी, लेकिन नाकामी से हार कर वापस जाने की बजाय मैं यहां अपने कदम जमाने के इरादे से आई थी। मैंने लघु फिल्मों से लेकर टीवी या विज्ञापन फिल्मों तक में काम किया। किसी बड़े ब्रेक के इंतजार में बैठे रहने की बजाय मैंने खुद को काम में व्यस्त रखा। ये कहना है नागपुर की श्वेता सिन्हा का। वैसे फिल्मी पृष्ठभूमि से नहीं होने की वजह से संघर्ष तो यहां जीवन का हिस्सा बन जाता है। संघर्ष कभी खत्म नहीं होता। मैं आज भी अपने अभिनय को बेहतर बनाने के लिए संघर्ष करती हूं। दूसरे नजरिए से देखें, तो इसे संघर्ष की बजाय सीखने का दौर भी मान सकते हैं। हर चीज आपके हाथ में नहीं होती। इसलिए हिम्मत हारे बिना सही मौके का इंतजार करना जरूरी है। श्वेता सिन्हा को हाल ही में कॉमिक फिक्शन श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ भूमिका निभाने का अवार्ड प्रदान किया गया है।

मां हैं मेरी प्रेरणा
श्वेता सिन्हा का कहना है कि वह अपनी मां स्मृतिरेखा समर्थ को प्रेरणा मानती हूं। मुझे कामयाबी मिल रही है, इसलिए मैं अभिनय करते रहना चाहती हूं। जब तक अच्छे रोल मिलते रहेंगे और दर्शक सराहते रहेंगे, तब तक अभिनय करती रहूंगी। मेरी मां और मेरी बहन डॉ. अमृता ने मेरी हर मौके पर हौसला-अफजाई की।
धैर्य की जरूरत
नागपुर की श्वेता सिन्हा ने अभिनय की दुनिया में नाम कमाया है। श्वेता ने अभिनय की दुनिया में बहुत संघर्ष किया। आज वे िजस मुकाम पर हैं वे इसका श्रेय अपने परिवार को देती हैं। ये बातें उन्हांेंने बुधवार को एक स्थानीय कार्यक्रम में कहीं। श्वेता हिंदुस्तान कॉलोनी वर्धा रोड पर रहती हैं। उन्होंने माउंट कार्मेल स्कूल से शिक्षा ली है। नागपुर विश्वविद्यालय से जन संचार में डिग्री ले चुकी हैं। श्वेता ने कहा कि अभिनय में नाम कमाने के लिए बहुत धैर्य की जरूरत होती है। वे फिलहाल ससुराल सिमर सीरियल में ‘परी भारद्वाज’ के कैरेक्टर को प्ले कर रही हैं। इससे पहले भी वे कई चैनल्स के लिए धारावाहिकों में काम कर चुकी हैं।
माता की चौकी, अदालत, जान खिलावन जासूस, मायके से बंधी, तारक मेहता आदि धारावाहिकों में काम कर चुकी हैं। इसके साथ ही उन्होंने कई विज्ञापन भी किए हैं। हाल ही में एनसीपीए डोम वर्ली में आयोजित अवार्ड फंक्शन में श्वेता को अयूब खान ने ‘कलर्स गोल्डन पैटल’ अवार्ड से सम्मानित किया है। बकौल श्वेता वे नागपुरियन होने में गर्व महसूस करती हैं। मैंने सुधा चंद्रन और कई वरिष्ठ कलाकारों के साथ अभिनय किए है।
X
actress shweta sinha Won Colors Golden Petal Award
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..