बच्चे की विकलांगता तबादले पर रोक का आधार नहीं

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुंबई. बाॅम्बे हाईकोर्ट ने कहा है कि बच्चे की विकलांगता के जरिए अनुचित लाभ न लिया जाए। हाईकोर्ट ने यह टिप्पणी करते हुए बच्चे की विकलांगता के आधार पर तबादले पर रोक लगाने की मांग करनेवाले लेफ्टिनेंट कर्नल अनिल कुमार यादव को दी गई राहत बरकरार रखने से इनकार कर दिया है। रक्षा मंत्रालय ने मुंबई में तैनात यादव का तबादला हैदराबाद कर दिया था लेकिन यादव ने वहां जाने से मना करते हुए तबादले के आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी है।
याचिका में यादव ने दावा किया है कि उसका 12 साल का बच्चा कई तरह की विकलांगता से ग्रस्त है। जिसका उपचार सिर्फ मुंबई में ही उपलब्ध है। इसलिए बच्चे के हित में तबादले पर रोक लगाई जाए। पिछली सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने यादव के तबादले पर अंशकालिक समय के लिए रोक लगाई थी। जिसे अदालत ने बरकरार रखने से इनकार कर दिया।
बुधवार को यादव की ओर से पैरवी कर रही वकील गायत्री सिंह ने कहा कि इस रोक को बरकरार रखा जाए। क्योंकि बच्चे का काफी समय से मुंबई की एक संस्था में इलाज चल रहा है। घर में एक और बच्चा है। जिसकी देखरेख में यादव की पत्नी व्यस्त रहती है। वहीं रक्षा मंत्रालय की ओर से पैरवी कर रहे वकील ने कहा कि हमने याचिकाकर्ता को कई वैकल्पिक जगह की जानकारी दी, जहां उनके बच्चे का उपचार हो सकता है, लेकिन वे यहां से जाने को तैयार नहीं। हमने उन्हें अध्ययन के लिए तय छुट्टी लेने का भी प्रस्ताव दिया है। इसके लिए भी वे राजी हैं। वे पिछले तीन साल से यहां पर है।
विकलांगता का अनुचित लाभ न लें
इस पर मुख्य न्यायाधीश मंजूला चिल्लूर व न्यायमूर्ति एमएस सोनक की खंडपीठ ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि याचिकाकर्ता अनिश्चत समय के लिए मुंबई में रहना चाहते हैं। खंडपीठ ने कहा कि बच्चे की विकलांगता का अनुचित लाभ नहीं लेना चाहिए। इस पर यादव की वकील ने कहा कि इस तरह के मामले को संवेदनशीलता से देखा जाना चाहिए।
जवाब में खंडपीठ ने कहा कि संवेदनशीलता की शुरुआत घर से होनी चाहिए जो नहीं दिखाई दे रही है। इसलिए हम तबादले पर लगी रोक को हटाते हैं। पिछली सुनवाई के दौरान खंडपीठ ने कहा था कि सिर्फ असामान्य स्थिति में ही रक्षा मंत्रालय की ओर से दिए गए तबादले के आदेश पर रोक लगाई जा सकती है। खंडपीठ ने फिलहाल क्रिसमस की छुटि्टयों के बाद याचिका पर सुनवाई रखी है। इसलिए अब यादव को अपनी तबादले वाली जगह पर रिपोर्ट करने के लिए जाना पड़ेगा।
खबरें और भी हैं...