पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Between The NCP And The MNS Explosion, Sabotage And Arson In Rajyur

राकांपा और मनसे के बीच घमासान, राज्यऊर में तोडफ़ोड़ और आगजनी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मुंबई/वर्धा/यवतमाल/चंद्रपुर. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना अध्यक्ष राज ठाकरे के काफिले पर अहमदनगर में हुई पत्थरबाजी के बाद मनसे कार्यकर्ता आक्रामक हो उठे हैं।

पत्थरबाजी के विरोध में मनसे कार्यकर्ताओं ने बुधवार को राज्यऊर में तोडफ़ोड़ की और कई वाहनों को आग हवाले कर दिया। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और मनसे कार्यकर्ताओं के बीच शुरू हुई राजनीतिक लड़ाई में बड़े पैमाने पर संपत्ति का नुकसान हुआ है।

राकांपा कार्यालयों को बनाया निशाना :

मंगलवार को पथराव की घटना के बाद मनसे कार्यकर्ता आक्रामक हो उठे। मनसे कार्यकर्ताओं ने मुंबई, ठाणे व कल्याण सहित राज्य के कई जिलों में राष्ट्रवादी कांग्रेस के कार्यालयों को निशाना बनाया। राकांपा के दफ्तरों में तोडफ़ोड़ की और उपमुख्यमंत्री अजित पवार व पार्टी के वरिष्ठ पार्टी नेताओं के पोस्टर जलाए।

मनसे कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम करने के साथ ही सरकारी बसों व कई वाहनों पर पथराव किया और कुछ वाहनों में आग भी लगा दी। नाराज मनसे कार्यकर्ताओं ने विदर्भ के कई जिलों में भी जमकर हंगामा मचाया।

वर्धा शहर में मनसे कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के कार्यालय में तोडफ़ोड़ कर आग लगा दी। हिंगणघाट व आर्वी में उपमुख्यमंत्री अजित पवार के पुतले फूंके गए।

यवतमाल जिले के वणी में मनसे कार्यकर्ताओं ने कई बसों के शीशे फोड़ दिए। पुलिस ने इस मामले में छह मनसे कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। चंद्रपुर जिले के वरोरा के निकट टमुर्डा गांव के पास नागपुर राज्य महामार्ग पर टायर जलाए।

इससे काफी समय तक यातायात प्रभावित रहा। मनसे कार्यकर्ताओं ने मुंबई मनपा में राकांपा के कार्यालय में तोडफ़ोड़ की और अजित पवार की तस्वीर पर कालिख पोत दी। इस घटना के बाद राकांपा के कार्यकर्ता भी आक्रामक हो गए।

इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद स्थिति पर काबू पाया। राष्ट्रवादी भवन के सामने लगे पार्टी नेताओं के बैनर भी फाडऩे की खबर है। इसी तरह दादर में मनसे कार्यालय के सामने एक कार को आग के हवाले कर दिया गया।

मनसे विधायक गिरफ्तार :

मनसे विधायक राम कदम के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने खार में नारेबाजी की और सड़क जाम कर दी। कदम सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया। चेंबूर में मनसे कार्यकर्ताओं ने राकांपा के प्रदेश प्रवक्ता नवाब मलिक का पुतला फूंक कर विरोध जताया। इस मामले में पुलिस ने 70 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। कुर्ला में हाजी अराफत शेख के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। चेंबूर के सिंधी कैंप इलाके में भी मनसे ने हंगामा किया।

कल्याण में अजित पवार का पुतला जलाने का प्रयास कर रहे मनसे कार्यकर्ताओं को पुिलस ने गिरफ्तार कर लिया। ठाणे में मनसे कार्यकर्ताओं ने राकांपा के कार्यालयों पर पर पथराव व तोडफ़ोड़ की। राकांपा विधायक जितेंद्र अव्हाड के कार्यालय पर पत्थरबाजी की खबर है। इसी तरह मनसे ने जबरन अंबरनाथ बंद करा दिया।

मुंबई-एक्सप्रेस हाइवे पर जाम :

मुंबई-एक्सप्रेस हाइवे पर भी कार्यकर्ताओं ने रास्ता रोको आंदोलन किया। बारहवीं कक्षा की परीक्षा होने के चलते विद्यार्थियों को परेशान का सामना करना पड़ा। पुणे, मुंबई, ठाणे, कल्याण, अकोला, यवतमाल और हिंगोली में मनसे कार्यकताओं ने तोडफ़ोड़ व आगजनी की। राष्ट्रवादी कांग्रेस व मनसे के बीच शुरू हुई लड़ाई के बाद से पूरे राज्य में पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई है।


उद्धव आए राज के पक्ष में :

राकांपा और मनसे की लड़ाई में शिवसेना भी कूद पड़ी है। शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने चचेरे भाई व मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे का खुलकर साथ देते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस को चुनौती दी है कि पुलिस को अलग रख कर वह आमने-सामने आकर निपट लें।

राज के काफिले पर हुई पत्थरबाजी पर उद्धव ने कड़ा ऐतराज जताया। उन्होंने कहा कि राकांपा को सत्ता का घमंड है। राज्य सरकार की गलतियों पर टिप्पणी करना विपक्ष का अधिकार है। इससे नाराज होकर विपक्ष के नेताओं पर हमला करना शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि सरकार में शामिल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी पुलिस बल का गलत इस्तेमाल कर रही है।

यदि उनमें ताकत है तो पुलिस को अलग रखकर आमने-सामने आकर निपट लें। राष्ट्रवादी को उसकी हैसियत पता चल जाएगी।