किसान की बेटी को था अपने पिता की सुसाइड का डर, फिर उठाया ये स्टेप

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
परभणी : कर्ज से परेशान किसान पिता सुसाइड न करें इसलिए उसकी बेटी ने खुदकुशी करने का मामला पाथरी तहसील के जवलाजुटा गांव में सामने आया है। उसने सुसाइड नोट में खुदकुशी वजह के बारे में लिखा है। लड़की बारहवीं की पढ़ाई कर रही थी। उसकी शादी से पिता के सिर पर कर्ज का बोझ बढ़ने वाला था। वहीं पिता द्वारा सुसाइड करने का उसे डर था। यह है पूरा मामला.....

-सारिका झुटे (18)  के पिता किसानी करते हैं। उन पर कर्ज था वहीं पिछले कुछ महीनों से बारिश नहीं हो रही थी।
-कर्ज के टेन्शन से पिता सुसाइड करने का डर सारिका को था इसलिए उसने अपने पिता से पहले सुसाइड कर ली। 
-बता दें कि सारिका से सुसाइड से 6 दिन पहले उसके चाचा देविदास ने खुदकुशी कर ली थी। सारिका ने इसका भी जिक्र सुसाइड नोट में किया है। 
 

सुसाइड नोट में क्या लिखा ? 
 
प्यारे पापा, छह दिन पहले आपके भाई ने बारिश न होने से फसल बर्बाद होने पर सुसाइड की। 
-वहीं अपनी फैमिली भी कर्ज के बोझ से दबी है, बारिश में नहीं हो रही। आप ने उधार लेकर फसल बोयी, लेकिन फसल जल गई तो आपका हाल देख नहीं पा रही हूं। 
-पिछले साल मेरी दीदी की शादी हुई, उसकी शादी कर्ज का बोझ अभी भी कम नहीं हुआ है। आप पर मेरी शादी की भी जिम्मेदारी है। 
-इसलिए आप चाचा की तरह सुसाइड न करें इसलिए मैं अपनी जिंदगी खत्म कर रही हूं। आपकी सारिका। 
 
 
 
खबरें और भी हैं...