मनरेगा ला सकती है विदर्भ में खुशहाली

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नागपुर. मनरेगा योजना विदर्भ के लिए विकास की बाढ़ ला सकती है। जरूरत है ग्रामपंचायतों के सामने आने की और प्रयास करने की। विकास के लिए प्रयास करनेवालों को आसानी से पैसा मिलेगा।

उक्त विचार रोगायो मंत्री नितीन राउत ने व्यक्त किए। वह अरविंद कृषि (मुक्त) विद्यापीठ की ओर से नरखेड़ तहसील के वडविहार गांव में आयोजित किसान सम्मेलन में बोल रहे थे। श्री राऊत ने कहा कि मनरेगा योजना के माध्यम से ग्रामपंचायत गांवों का विकास करने के लिए 40 लाख रुपए का काम कर सकती है।

योजना के माध्यम से तालाब, नाले का चौड़ाईकरण आदि काम ग्रामपंचायत कर सकती है। पूर्व विधायक सुनील शिंदे ने कहा कि विदर्भ पर हर बार अन्याय हुआ है। पश्चिम महाराष्ट्र में सरकार द्वारा चलाई सभी योजनाएं फलती-फूलती हैं।

लेकिन यह योजनाएं विदर्भ में आते ही दम तोड़ देती हैं। इस अवसर पर अरविंद कृषि (मुक्त विद्यापीठ) के कुलगुरु डॉ. अशोक ढगे, कुलपति मुकुंदराव गायकवाड, विधायक नरेश ठाकरे, चंद्रपाल चौकसे आदि गणमान्य उपस्थित थे।