पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Murmadhi Murder Ptole Courted By Hundreds Of Arrests, Including

मुरमाड़ी हत्याकांड : पटोले सहित सैकड़ों ने दीं गिरफ्तारियां

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भंडारा. मुरमाड़ी लाखनी हत्यकांड मामले को लेकर पुलिस प्रशासन तथा सरकार के विरोधार्थ सोमवार को भाजपा तथा सत्यवादी संगठन की ओर से जेल भरो आंदोलन किया गया।

इस आंदोलन के चलते विधायक नाना पटोले सहित करीब 100 कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारियां दीं। गिरफ्तारी देने से पूर्व आंदोलनकर्ताओं ने जिलाधिकारी से चर्चा की व उन्हें ज्ञापन सौंपा।

गौरतलब है कि मुरमाड़ी लाखनी निवासी बोरकर परिवार की तीन बहनों के हत्याकांड मामले के अपराधियों तक पहुंचने में पुलिस प्रशासन विफल साबित हो रहा है।

ऐसे में विविध संगठनों द्वारा पुलिस पर कार्रवाई करने का दबाव बनाने के लिए आंदोलन किए जा रहे हैं। इसी के चलते रविवार की शाम विविध संगठनों द्वारा मशाल मोर्चा निकाला गया। जिसमें घटित घटना के चलते 20 लोग झुलस गए।

भाजपा के विधा. नाना पटोले व शिवेसना के विधा. नरेंद्र भोंडेकर ने इस घटना के लिए राकांपा कांग्रेस तथा पुलिस प्रशासन को जिम्मेदार मानते हुए सोमवार से जेल भरो आंदोलन करने की चेतावनी दी। इस चेतावनी को पूर्ण करते हुए आंदोलन का प्रथम चरण सोमवार को पूरा हुआ।

इस दौरान भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना देकर प्रशासन का विरोध व्यक्त किया। जिसके पश्चात आंदोलनकर्ताओं ने जिलाधिकारी को एक निवोदन सौंपा।

इस निवेदन में कहा गया है कि मुरमाड़ी लाखनी की हत्याकांड के अपराधियों को पकडऩे में पुलिस प्रशासन असफल साबित हो रही है, जिससे यह साफ है कि पुलिस प्रशासन की कार्रवाई में कुछ कमी है।

यही नहीं रविवार की शाम निकाले गए मशाल मोर्चे पर पथराव कर आगजनी का प्रयास भी किया गया। इस निवेदन के माध्यम से यह मांग की गई कि पुलिस प्रशासन मामले में अपनी कार्रवाई की गति बढ़ाए और अपराधियों को जल्द से जल्द हिरासत में ले।

यही नहीं मोर्चे में पथराव करने वालों पर भी कार्रवाई की जाए। जिलाधिकारी को निवेदन सौंपने के पश्चात विधा. नाना पटोले सहित भाजपा व सत्यवादी संगठन के करीब सौ कार्यकर्ताओं ने स्वयं की गिरफ्तारियां दीं।

इस समय विधा. पटोले ने यह भी चेतावनी दी है कि यह जेल भरो आंदोलन आगे भी जारी रहेगा, जिसके चलते मंगलवार 26 फरवरी को भी कुछ कार्यकार्ता गिरफ्तारी देंगे और यह श्रृंखला तब तक जारी रहेगी जब तक अपराधी पकड़ में नहीं आ जाते।

ग्रामीणों से पुन: पूछताछ शुरू

मुरमाड़ी मामले में पुलिस की 10 टीमें जुटी होने के बावजूद अब तक कोई निश्चित नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। पुलिस द्वारा जिन लोगों के पहले बयान लिए जा चुके हैं, उनसे यह सोच कर पुन: पूछताछ शुरू की गई है कि, बयान में कोई नई बात सामने आ सके। पुलिस विभाग की टीमें दो सवालों को सुलझाने में ही लगी नजर आ रही है।

एक कहीं यह हत्या जायदाद को लेकर तो नहीं की गई?

और दूसरा कि इस वारदाद को किसी ऐसे व्यक्ति ने तो अंजाम नहीं दिया जो बाहर राज्य में रहता हो? इन्हीं सवालों को सुलझाने के लिए बच्चियों की दादा दादी से पूछताछ जारी है ।

एक टीम को मिले क्लू के चलते गुजरात रवाना किया गया। आज रात संदिग्ध कुछ युवकों को साथ लेकर पुलिस वापस पहुंचने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि पुलिस विभाग ने अब तक सवा सौ से अधिक ग्रामवासियों से मामले में पूछताछ की और सवा लाख से अधिक मोबाइल के कॉल रिकार्ड चेक किए। इसके बावजूद भी उनके हाथ कुछ नहीं लगा।