पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Obscenity On Social Sites Can Cause Trouble

सोशल साइट्स पर अश्लील संवाद, बन सकता हल गले की फांस!

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मुंबई. महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने के लिए फेसबुक,ट्विटर जैसी वेबसाइट पर ऑनलाइन किए जाने वाले अशोभनीय संवाद व अश्लील तस्वीरों पर प्रतिबंध लगाया जाए।

महिलाओं की सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर अध्ययन के लिए पूर्व हाईकोर्ट जज चंद्रशेखर धर्माधिकारी की अगुवाई में गठित कमेटी की अंतरिम रिर्पोट में यह सिफारिश की गई है।

गुरुवार को कमेटी की तीसरी अंतरिम रिपोर्ट बॉम्बे हाईकोर्ट में पेश की गई। रिपोर्ट के मुताबिक कम उम्र में लड़के- लड़कियां एक दूसरे की ओर आकर्षित हो रहे हंै। कई सर्वेक्षणों में यह बात सामने आई है।

राज्य के महाधिवक्ता डेरिस खंबाटा ने हाईकोर्ट में साफ किया कि धर्माधिकारी कमेटी की यह रिपोर्ट विचाराधीन है। कुछ दिनों पहले धर्माधिकारी कमेटी की दो अंतरिम रिपोर्ट हाईकोर्ट में पेश की गई थी।

रिपोर्ट में मुख्य रुप से दुष्कर्म की शिकार महिलाओं की जांच सिर्फ महिला डॉक्टरों से कराने व उंगलियों से किए जानेवाली जांच को खत्म करने की सिफारिश की गई थी।