पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुपारी तस्करी का हुआ पर्दाफाश

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नागपुर। शहर में सुपारी की कालाबाजारी का पर्दाफाश हुआ है। गुटखाबंदी के प्रयासों के बीच सक्रिय हुए सुपारी तस्करों पर नकेल कसते हुए इतवारी में छापेमारी की गई है। शनिवार की दोपहर से शुरू हुई खाद्य औषधि विभाग की छापामार कार्रवाई समाचार लिखे जाने तक जारी थी। पता चला है कि छत्तीसगढ़ मार्ग से शहर में बड़े पैमाने पर हल्के दर्जे के पान मसाले में प्रयुक्त की जाने वाली सुपारी नागपुर में पहुंच रही है। दैनिक भास्कर ने शनिवार को ही प्रकाशित रिपोर्ट में उल्लेखित किया था कि गुटखा तस्करी में अपराधी तत्व सक्रिय होने लगे हैं। छापामार दस्ते में शामिल अधिकारियों ने कहा है कि इस व्यवसाय में बड़ी पहुंचवाले शामिल हैं। जिन स्थानों पर छापे मारे गए उनमें रमेश इंटरप्राइजेस इतवारी व मोहनलाल वेलजी का महाजन गली इतवारी स्थित गोदाम शामिल है। रमेश इंटरप्राइजेस से 32 लाख रुपये से अधिक की सुपारी बरामद की गई है। मोहनलाल के गोदाम से करीब 11 किलो सुपारी बरामद की गई है। उसकी कीमत 4.40 लाख रुपये आंकी गई है। सूत्रों के अनुसार खाद्य आपूर्ति विभाग को सूचना मिली थी कि हावड़ा एक्सप्रेस से शहर में बड़े पैमाने पर रंगीन सुपारी आ रही है। असम से आने वाली यह सुपारी हल्के दर्जे के गुटखा में इस्तेमाल की जाती है। इतवारी के अलावा अन्य क्षेत्रों में ऐसे कुछ व्यवसायी हैं, जो इस कालाबाजारी में लिप्त हैं। 2 दिन पहले ही इतवारी रेलवे स्टेशन पर 50 से अधिक सुपारी भरे बोरे उतारे गए थे। सूचना मिलने पर एफडीए के दस्ते ने इतवारी रेलवे स्टेशन पर पूछताछ की। वहां उस आटो रिक्शा का नंबर हासिल किया गया जिससे सुपारी के बोरे ले जाए गए थे। पहले आटो को पकड़ा गया फिर सुपारी के अड्डों पर छापेमारी की गई। शनिवार की दोपहर 1 बजे शुरू हुई इस कार्रवाई को लेकर व्यापारियों में हड़कंप मच गया। बताया जाता है कि कालाबाजारी को उजागर करवाने में ऐसे कुछ व्यापारी भी शामिल हुए, जो कालाबाजारियों के साथ व्यवसायिक स्पर्धा कर रहे हैं। इस व्यवसाय में अपराधियों की लिप्तता से हलाकान व्यापारियों ने कालाबाजारियों पर दबाव लाने के लिए कथित तौर से छापेमारी में मदद की। छापामार कार्रवाई का नेतृत्व एफडीए के उपायुक्त संजय नारगुड़े ने किया। के.जी देशपांडे, ए.पी पवार,के.एम महाजन, वी.पी धवड़ व अन्य अधिकारी छापामार दल में शामिल थे। जिन स्थानों पर छापे मारे गए उनके यहां सुपारी कारोबार का लाइसेंस नहीं पाया गया । बताया जाता है कि अन्य कई बड़े व्यवसायी इस कारोबार में शामिल हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

और पढ़ें