मेट्रो आई नहीं, नौकरी के नाम पर ठगी शुरू / मेट्रो आई नहीं, नौकरी के नाम पर ठगी शुरू

News - भोपाल

Bhaskar News Network

Feb 09, 2018, 02:15 AM IST
मेट्रो आई नहीं, नौकरी के नाम पर ठगी शुरू
भोपाल
राजधानी में मेट्रो रेल चलने से पहले प्रोजेक्ट में भर्ती के नाम पर ठगी शुरू हो गई है। शातिर ठगों ने शिक्षित बेरोजगार युवाओं को मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में नौकरी देने का झांसा देकर उनसे लाखों रुपए ऐंठ लिए। धोखाधड़ी करने वालों के हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्होंने नियुक्ति पत्र में एक ओर भारत सरकार तथा दूसरी तरफ मध्यप्रदेश सरकार का लोगो लगा रखा है। मजेदार बात तो यह है कि ये ठग ऐसे पदों पर नियुक्ति देने का झांसा दे रहे हैं, जो पद पूरे प्रोजेक्ट में ही नहीं है। मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में नौकरी देने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह इन दिनों भोपाल में सक्रिय है। बाकायदा उसके दलाल भोलेभाले शिक्षित बेरोजगारों को नौकरी दिलाने का लालच देते हैं। जब कोई नौजवान इनके जाल में फंस जाता है तो वे उसे एक मोबाइल नंबर देते हैं। फिर कहते हैं कि इस नंबर पर बात कर लो आपका काम हो जाएगा। यहां से गिरोह के दूसरे सदस्य की भूमिका चालू होती है। वह आवेदक को अपने पास बुलाकर उससे उसके पूरे मूल दस्तावेज और कुछ एडवांस राशि रखवा लेता है। वह कुछ दिन बाद नियुक्ति पत्र देने का भरोसा दिलाता है। जब जाल में फंसा युवक नियुक्ति पत्र लेने जाता है तो उससे मोटी रकम (एक-दो लाख) रुपए रखवा लिए जाते हैं।








सरकारी दस्तावेज की तरह प्रतीत होता है

शातिर ठग आवेदक को पांच पेज का एक नियुक्ति पत्र भी थमा देता है, जिसे देखने से पहली नजर में प्रतीत होता है कि मानो यह सरकारी नौकरी का दस्तावेज हो। इस नियुक्ति पत्र को लेकर बेरोजगार भटकते रहते हैं और उन्हें कहीं कोई नौकरी नहीं मिलती। ठगी के शिकार युवा मेट्रो प्रोजेक्ट के दफ्तर में तो घुस ही नहीं पाते हैं। ऐसे ही एक युवा ने इन ठगों के खिलाफ डीआईजी भोपाल को शिकायत की है। सैयद जीशान अली नामक यह युवक मूलत: रतलाम जिले का रहने वाला है। मंगलवार को जनसुनवाई के दिन वह विशेष तौर पर भोपाल आया और अपने पिता सैयद अनीस अली के साथ जाकर उन्होंने डीआईजी को आप बीती सुनाई। डीआईजी ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

वैधानिक कार्रवाई की जाएगी

 फर्जी नियुक्ति पत्र मामले की शिकायत आई है। हम उसकी जांच करवा रहे हैं। इसमें जो भी व्यक्ति दोषी होगा, उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। धर्मेंद्र चौधरी, डीआईजी भोपाल

X
मेट्रो आई नहीं, नौकरी के नाम पर ठगी शुरू
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना