पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पन्ना में फूटे बांधों की जांच करने गए ईएनसी

पन्ना में फूटे बांधों की जांच करने गए ईएनसी

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल-बैतूल हाईवे पर जाम
दमोह में डीजल टैंकर बहा
बैतूल । जिले के शाहपुर के पास सूदी नदी के पुल पर पानी आ जाने से भोपाल बैतूल हाईवे दिन भर बंद रहा।

दमोह । जिले के बनवार में स्थित धुनगी नदी में पानी का बहाव बढ़ने से डीजल का टैंकर बह गया।

छतरपुर । जिले के घुवारा में तीन दिन से जारी बारिश के कारण आधी सड़क कट कर बह गई। इसके कारण ट्रैफिक प्रभावित हुआ है। इसी तरह छतरपुर-सागर मार्ग भी बंद है।

पॉलिटिकल रिपोर्टर | भोपाल

पन्ना जिले में सिरस्वाहा और बिलखुरा बांध पहली बारिश में ही टूट गए। एसीएस राधेश्याम जुलानिया और प्रमुख अभियंता एमजी चौबे इन बांधों को तेज बारिश की वजह से टूटना बता रहे हैं। उनका कहना है कि बांध निर्माणाधीन होने की वजह से टूटे है। दोनों बांध साल भर पहले ही बने थे। सिरस्वाहा बांध 32 करोड़ से बना था इसमें अन्य खर्च जोड़कर 58 करोड़ की राशि खर्च की जा चुकी थी। वहीं, बिलखुरा बांध में भी 11 करोड़ खर्च हुए है। ये दोनों बांध पूरी तरह से टूट गए हैं। इसके साथ ही नचनौरा और दोभा बांध को बचाने के लिए उनमें कट लगाकर बांध से पानी निकाला गया ताकि इनको बचाया जा सके। विधायक मुकेश नायक ने इस मामले की जांच की मांग की है।

एसीएस राधेश्याम जुलानिया से सीधी बात
क्या वजह रही बांध टूटने की?

तेज बारिश की वजह से बांध टूटे हैं।

निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया?

जिन ठेकेदारों ने बांध बनवाए थे, उनसे डेम की दोबारा मरम्मत करवाई जाएगी।

तकनीकी खामी तो बांध टूटने की वजह नहीं?

ईएनसी को वहां निरीक्षण करने के लिए भेजा है। उनकी जांच रिपोर्ट में बांध फूटने की वजह सामने आएगी।

दोषियों पर कार्रवाई?

कोई भी दोषी बख्शा नहीं जाएगा।

पन्ना जिले में दो बांध टूटने की उच्चस्तरीय जांच कराई जा रही है। इसमें जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। नरोत्तम मिश्रा, जल संसाधन मंत्री

रायसेन । बारनी नदी के पुल पर तीन फीट पानी आने से हाईवे बंद हो गया। जिले का सड़क संपर्क विभिन्न जिलों से टूट गया।

खबरें और भी हैं...