विज्ञापन

MP में बारिश से बांध बहे, सतना में हालत इतनी खराब कि सेना को बुलाना पड़ा

Dainik Bhaskar

Jul 07, 2016, 11:27 PM IST

प्रदेश में भारी बारिश के कारण कई जिलों में बाढ़ की स्थिति बन गई है। कई जगह नदियां उफान पर होने से यातायात थम गया है।

रीवा में जब बाढ़ का पानी अचानक आ रीवा में जब बाढ़ का पानी अचानक आ
  • comment
भोपाल/नई दिल्ली. मध्य प्रदेश में पिछले दो दिनों से हो रही भारी बारिश की वजह से कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात हैं। रीवा जिले में टमस नदी में फंसे तीन लोगों को 24 घंटे बाद सेना के हेलिकॉप्टर से बचा लिया गया। बुधवार शाम नदी में अचानक पानी बढ़ गया था। जान बचाने के लिए सात लोग पेड़ पर चढ़ गए और किसी तरह रात गुजारी। गुरुवार सुबह चार लोग तैरकर बाहर निकल गए। तीन वहीं फंसे रहे। उन्हें मोटर बोट से बचाने की कोशिश की गई, लेकिन वह भी बह गई। शाम को सेना ने उन्हें हेलिकॉप्टर से बाहर निकाला। रीवा में सेल्फी के चक्कर में पांच लड़के, जबकि भिंड में भी बाढ़ के पानी में दो युवक बह गए। एमपी के अलावा उत्तराखंड और असम में भी बारिश ने काफी तबाही मचाई है। लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। कई रास्ते बंद होने से गांवों का संपर्क टूटा, बारिश ने मचाई भारी तबाही...
- एमपी में कई जगह नदियां उफान पर होने से ट्रैफिक थम गया है। सैकड़ों गांव शहरों से अलग-थलग पड़ गए हैं।
- जबलपुर, सतना और सागर जिलों हालत सबसे ज्यादा खराब हैं। यहां सेना बुलानी पड़ी।
- श्योपुर में पार्वती नदी पर पुल के ऊपर पानी बहने से कोटा (राजस्थान) को जोड़ने वाला रास्ता बंद हो गया है।
- एमपी की तरह उत्तराखंड और असम के कई जिलों में भी लाखों लोग बारिश से प्रभावित हुए हैं।
#1. रीवा...24 घंटे तक पेड़ पर चढ़े रहे तीन लोग, हेलिकॉप्टर से निकाला
टमस नदी का जलस्तर अचानक बढ़ने से यहां सात लोग बह गए। जान बचाने के लिए वे पेड़
पर चढ़ गए। सारी रात वहीं लटके रहे। अगले दिन चार लोग तैरकर बाहर निकल आए। शाम पांच बजे के करीब बरेली से सेना का हेलिकॉप्टर पहुंचा और तीन लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।
#2.भिंड... पिकनिक मनाने गए दो युवक चंबल नदी में डूबे
- चंबल नदी के बरही घाट पर पिकनिक मनाने गए शहर के नौ युवकों में से तीन तेज बहाव में बह गए।
- इनमें से एक को तो उसके साथियों ने बचा लिया, लेकिन दो डूब गए। देर रात तक तलाश जारी थी।
- इसी प्रकार लहार में घर के बाहर गड्ढे में भरे बारिश के पानी में डूबने से एक साल के एक बच्चे की मौत हो गई।
#3. टीकमगढ़... बारिश ने रोके सात फेरे, आधे रास्ते में रुकी रहीं 5 बरातें
- टीकमगढ़ में तेज बारिश ने पांच जोड़ों के सात फेरे रोक दिए। पांचों की बरातें धसान नदी के किनारों पर खड़ी रही।
- नदी के उफान पर होने से तय मुहूर्त में बरात नहीं पहुंच सकी। इससे पांचों की शादी अगले मुहूर्त तक टाल दी गई।
- धसान नदी के पुल के दोनाें ओर गाड़ियों की लंबी कतारें लगी रही।
तो इस वजह से एमपी के कुछ जिलों में हुए हालात खराब
- आईएमडी के मुताबिक, सतना के पास डीप डिप्रेशन (कम दबाव का क्षेत्र) बना हुआ है।
- इसके साथ ही बंगाल की खाड़ी तक बादलों की टर्फ लाइन बनी हुई है।
- इन दोनों के असर से बुंदेलखंड, विंध्य और महाकौशल क्षेत्र में भारी बारिश हो रही है।
- अगले 24 घंटों में मालवा और निमाड़ में भी अच्छी बारिश की उम्मीद है।
सेल्फी लेने के चक्कर में बह गए पांच लड़के
- बता दें कि बुधवार को रीवा जिले में बारिश के बीच सेल्फी ले रहे 5 लड़के पूर्वा फॉल (टमस नदी) में बह गए। एक लड़के की लाश बरामद की गई है।
- बाकी चार की तलाश की जा रही है। घटना बुधवार की शाम की है। सभी की उम्र 15 से 16 के बीच है। 24 घंटे से हो रही जिले में बारिश के चलते टमस नदी में पानी का बहाव बढ़ गया है।
ब्रह्मपुत्र नदी खतरे के निशान से ऊपर, हजारों प्रभावित

- असम के सात जिलों में बाढ़ की वजह से करीब 90,000 से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं।
- लोकल एडमिस्ट्रेशन के मुताबिक, लखीमपुर, धेमाजी, नौगांव, जोरहाट, गोलाघाट, मौरीगांव और बिश्वनाथ जिलों में 88,000 से ज्यादा लोग बाढ़ से जूझ रहे हैं।
- ब्रह्मपुत्र नदी सोनितपुर जिले के तेजपुर, जोरहाट के नेमतीघाट, लखीमपुर के बड़ातीघाट के सुबंसिरी, शिवसागर के दिखे, गोलाघाट शहर के धनसिरी, गोलाघाट के नुमालिगढ़ और सोनितपुर के एनटी रोड क्रॉसिंग के जिया भराली में नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।
- एडमिनिस्ट्रेशन ने लखीमपुर जिले में सात राहत कैम्प भी खोले हैं। बाढ़ की वजह से इन जिलों में 6,000 हेक्टेयर से ज्यादा की फसल बर्बाद हो गई।
यूपी-बिहार में बिजली गिरने से मौतें
- यूपी और बिहार में बिजली गिराने से होने वाली मौतों का सिलसिला जारी है। बता दें कि साउथ-वेस्ट मानसून एक्टिव होने से यूपी के कई इलाकों में बारिश हुई।
- वहीं, बुधवार और गुरुवार को बिजली गिरने से दोनों राज्यों में सात से ज्यादा मौतें हुई हैं। कई लोगों के जख्मी होने की भी खबर है।

X
रीवा में जब बाढ़ का पानी अचानक आ रीवा में जब बाढ़ का पानी अचानक आ
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन