• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Bhopal
  • News
  • इस दिन मां कंकाली की सीधी होती है गर्दन, चमत्कार को देखने आते हैं भक्त
विज्ञापन

इस दिन मां कंकाली की सीधी होती है गर्दन, चमत्कार को देखने आते हैं भक्त

Dainik Bhaskar

Oct 05, 2016, 01:27 AM IST

गुदावल में पांच करोड़ रुपए की लागत से बनाया जा रहा है भव्य मंदिर, 71 फीट रहेगी शिखर की ऊंचाई।

कंकाली देवी मंदिर, गुदावल, जिला रायसेन। कंकाली देवी मंदिर, गुदावल, जिला रायसेन।
  • comment
रायसेन/भोपाल. दशहरे के दिन मां कंकाली देवी की गर्दन सीधी हो जाती है। इस रहस्य को अभी तक कोई सुलझा नहीं पाया है। यहां वर्ष भर भक्तों का तांता लगा रहता है। भक्तों को यहां आने के लिए परेशानी न हो इसलिए मंदिर की वेबसाइट तैयार की गई है। मंदिर के बारे में क्या है मान्यता...
-मान्यता के मुताबिक गुदावल स्थित मां कंकाली देवी की प्रतिमा की टेढ़ी गर्दन दशहरे के दिन सीधी हो जाती है।
-संतान प्राप्ति की मनोकामना को लेकर हजारों की संख्या में प्रदेश भर से श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं।
-भोपाल से 20 और रायसेन से 30 किमी दूर स्थित इस मंदिर की वेबसाइट भी तैयार कर ली गई है।
-इसके अलावा मां कंकाली देवी के चित्र वाले चांदी के सिक्के भी बनवाए गए हैं।
-मंदिर निर्माण के लिए 11 हजार या इससे अधिक राशि दान करने वाले श्रद्धालुओं के लिए यह सिक्का उपहार के तौर पर दिया जाएगा।
-वेबसाइट और चांदी के सिक्कों का लोकार्पण 7 अक्टूबर को पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा द्वारा किया जाएगा।
श्रद्धालु गोबर से उल्टे हाथ के निशान लगाते हैं
-मां कंकाली मंदिर विकास एवं सेवा सार्वजनिक ट्रस्ट के दुर्गाप्रसाद के मुताबिक संतान प्राप्ति के लिए मंदिर पर श्रद्धालु गोबर से उल्टे हाथ के निशान लगाते हैं।
-मनोकामना पूरी होने पर हाथों के सीधे निशान बना दिए जाते हैं। यहां हाथों के हजारों निशान बने हुए हैं। नवरात्र में बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं।
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, किस तरह का बन रहा है मंदिर...

मंदिर का तैयार कराया गूगल मैप। मंदिर का तैयार कराया गूगल मैप।
  • comment
तैयार कराया गूगल मैप
-ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव के निर्देश के बाद मां कंकाली मंदिर परिसर का गूगल मैप तैयार करा लिया गया है। -इसके साथ ही परिसर में पौधरोपण का कार्य भी किया गया।
-ट्रस्ट के सदस्यों की संख्या बढ़ाते हुए विभिन्न विभागों के तकनीकी अधिकारियों को सदस्य बनाया गया है जिससे अब ट्रस्ट के कार्य आसानी से होने लगे हैं।
 
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, 71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर...
71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर। 71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर।
  • comment
71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर
 
-जानकारी के मुताबिक मां कंकाली देवी के मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है। 
-मंदिर का निर्माण 153 गुणा 153 क्षेत्र में किया जा रहा है। इसमें  नौ हजार वर्गफीट का मां कंकाली का गर्भगृह तैयार किया जा रहा है। 
-इसकी छत खास तकनीक से बनाई जाएगी। इसमें एक भी पिलर नहीं रहेगा।
-यह मंदिर 5 करोड़ रुपए की लागत से बनाया जा रहा है। इसके शिखर की ऊंचाई 71 फीट रहेगी।
 
आगे की स्लाइड्स में देखें, फोटो...
दशहरा को हो जाती है कंकाली माता की सीधी गर्दन। दशहरा को हो जाती है कंकाली माता की सीधी गर्दन।
  • comment
कंकाली मंदिर। कंकाली मंदिर।
  • comment
X
कंकाली देवी मंदिर, गुदावल, जिला रायसेन।कंकाली देवी मंदिर, गुदावल, जिला रायसेन।
मंदिर का तैयार कराया गूगल मैप।मंदिर का तैयार कराया गूगल मैप।
71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर।71 फीट ऊंचा अष्ठ कोणीय बनाया जा रहा है मंदिर।
दशहरा को हो जाती है कंकाली माता की सीधी गर्दन।दशहरा को हो जाती है कंकाली माता की सीधी गर्दन।
कंकाली मंदिर।कंकाली मंदिर।
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें