पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • भोपाल | आईसेक्टविश्वविद्यालय में शोध द्वारा देश के विकास के

भोपाल | आईसेक्टविश्वविद्यालय में शोध द्वारा देश के विकास के

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल | आईसेक्टविश्वविद्यालय में शोध द्वारा देश के विकास के लिए नई दिशाएं रिसर्च डायरेक्शन इन मॉडर्न टेक्नोलॉजी फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट विषय पर विज्ञान के नवीनतम आयामों को लेकर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आइसेक्ट विश्वविद्यालय परिसर में स्थापित 10 किलोवाट के सौर एवं पवन ऊर्जा हाईब्रिड सिस्टम का उद्घाटन डॉ. आर के कौरा ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आईसेक्ट विवि के कुलाधिपति संतोष चौबे ने कहा कि आज विश्व की सबसे बड़ी समस्या है ऊर्जा और हम सस्टेनेबल एनर्जी के विभिन्न माॅडल्स पर काम कर रहे हैं ताकि देश के हर गांव में ऊर्जा की आपूर्ति की जा सके। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रो. एके पाण्डे, अध्यक्ष, मप्र निजि विश्वविद्यालय विनियामक आयोग ने अपने संबोधन में युवा छात्र-छात्राओं को संदेष देते हुए कहा कि पुरानी और नई टेक्नोलाॅजी पर शोध करें और उस पर अपना फोकस बनाए रखें। इसी क्रम में गुड़गांव से आए डॉ. आरके कौरा, उपाध्यक्ष, सोलर एनर्जी सोसायटी आॅफ इंडिया ने अपने उद्बोधन में भी ऊर्जा के विभिन्न स्रोतों पर कई अहम जानकारियां शेयर कींं। कार्यक्रम में डॉ. वी के सेठी द्वारा लिखी पुस्तक ‘ग्रीन पावर फॉर एनर्जी सेक्यूरिटी एण्ड इनवायरमेंटल सस्टेनबिलिटी’ का विमोचन किया गया।