पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • कॉलेज बदले, जमा नहीं हो रहे परीक्षा फॉर्म

कॉलेज बदले, जमा नहीं हो रहे परीक्षा फॉर्म

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बरकतउल्लायूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों ने स्नातक के पहले और दूसरे सेमेस्टर पास अन्य कॉलेजों के छात्रों को बिना यूनिवर्सिटी को सूचित किए तीसरे सेमेस्टर में एडमिशन दे दिए हैं। कॉलेजों के इस कदम से हजारों छात्रों के सामने तीसरे सेमेस्टर के फॉर्म भरने की समस्या गई हैं। कॉलेज बदलने के कारण छात्र तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा के फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। स्नातक और पोस्ट ग्रेजुएशन थर्ड सेमेस्टर के फॉर्म सामान्य फीस के साथ भरने के लिए अब केवल दो दिन हैं और करीब एक हजार से ज्यादा छात्र अभी भी फॉर्म भरने से वंचित हैं।

कॉलेजों की हरकत का खुलासा तब हुआ, जब छात्रों ने परीक्षा के फॉर्म भरने के लिए एमपी ऑनलाइन का पोर्टल खोला।

कॉलेजका कोड भी बदला

छात्रोंके अनुसार ऑनलाइन फॉर्म भरने के लिए जब कॉलेज कोड डाला तो फॉर्म ही नहीं खुला। छात्रों ने इसकी शिकायत बीयू प्रशासन से की है। पड़ताल करने पर पता चला कि नए कॉलेज में एडमिशन के साथ ही कॉलेज का कोड भी बदल चुका है, लेकिन इसकी जानकारी यूनिवर्सिटी को नहीं होने से छात्रों के फॉर्म ही अपलोड नहीं हो सके हैं। छात्रों का कहना है कि कॉलेजों और विवि के बीच समन्वय की कमी के कारण उनके सामने अब लेट फीस के साथ फॅार्म भरने की नौबत गई है।

कई छात्रों के प्राइवेट से रेगुलर और रेगुलर से प्राइवेट होने की भी जानकारी सामने अाई है। कॉलेजों द्वारा इसकी सूचना भी बीयू को नहीं देने से करीब डेढ़ हजार छात्रों के सामने फॉर्म भरने की दिक्कत आई है। यूनिवर्सिटी के अफसरों के अनुसार पहले और दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर प्राइवेट छात्र को रेगुलर एडमिशन देने का आदेश अभी मौखिक है। रजिस्ट्रार एलएस सोलंकी ने समस्या आने की बात मानी है। उनके मुताबिक इस तरह के मामलों पर फैसला लेने के लिए बैठक बुलाएंगे।



बैठक में इस समस्या का हल तलाशा जाएगा।