पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • चित्रलोक में गूंजे किशोर दा के तराने

चित्रलोक में गूंजे किशोर दा के तराने

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
‘येवि‌विध भारती का भोपाल केंद्र है। आप सुन रहे हैं कार्यक्रम चित्रलोक। आज हम सुनेंगे किशोर दा के तराने।’ गुरुवार को मंच से जब एंकर ने संगीत कार्यक्रम का रेडियो की तर्ज पर एनाउंसमेंट किया तो श्रोता हैरान रह गए। रवींद्र भवन में ‘ये है वि‌विध भारती यादों की बारात’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। संगीत की इस बेला में सिंगर्स ने नए और पुराने गीतों की प्रस्तुति दी। स्व. किशोर कुमार स्मृति समिति और सोशल इकोनॉमिक डेवलपमेंट सोसायटी की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम की परिकल्पना प्रवीण कश्यप ने की। सिंगर शोभना ने ईवेंट की शुरुआत ‘आएगा आने वाला...’ गाने से की। इसके बाद प्रवीण कश्यप ने ‘मेरा जीवन कुछ काम आया...’, ऊषा कुमार ने ‘फिर वही रात है...’ गाना गाया।

अगले क्रम में तनु ने ‘माय हार्ट इज़ बीटिंग...’, जयदीप सरकार ने दिल...’, संजय तैलंग ने ‘फूलों के रंग से दिल की कलम से...’ जैसे सदाबहार गीतों की प्रस्तुति दी। संगत में गिटार पर संदीप वर्मा, ढोलक पर राजकुमार सक्सेना और ऑक्टोपैड पर प्रवीण कुमार रहे।

musical eve