पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • देवी देवताओं को उन्होंने दिया था रूप

देवी-देवताओं को उन्होंने दिया था रूप

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मैं प्रोफेसर था तो अपने अंडर एक छात्रा को राजा रवि वर्मा पर पीएचडी करवा चुका हूं। उन्होंने भारतीय चित्रकला को नई दिशा दी थी। भारतीय चित्रकला का विधान रेखा प्रधान था, जबकि यूरोपियन चित्रकला का विधान छाया प्रकाश प्रधान रहा है। उन्होंने छाया प्रकाश प्रधान चित्रकला को अपनाकर विदेशों में भारत का नाम रोशन किया।

उनकीखास बात: फिगरड्रॉइंग और खासतौर पर तस्वीरों में व्यक्ति की भावनाओं को उकेर देना।

आपनेक्या सीखा: मानवछवि बनाने में आंखों और होंठों पर फोकस करना चाहिए। इन्हीं से व्यक्ति के व्यक्तित्व और भावों को समझाया जा सकता है।

विवादोंके बारे में: जबउन्होंने अपनी प्रेयसी सुगंधा की अनड्रेप्ड पेंटिंग बनाई थी, तो उनपर केस हुआ था। तब उन्होंने तर्क दिया था कि वेद-पुराणों में जिन बातों का जिक्र है, मैं उन्हें केवल चित्र के रूप में उतारता हूं। इसमें अश्लील क्या है? इस बात के बाद जज ने फैसला उनके पक्ष में दिया था।

फोटो कर्टसी: कलांशआर्ट गैलरी मॉडल:निदा

राजा रवि वर्मा के चित्रों में फिगर पेंटिंग ही सबसे ज्यादा चर्चित हैं। इनमें हमेशा आंखों और होंठों पर ध्यान दिया गया है, क्योंकि ये दोनों ही व्यक्ति के चेहरे के हर भाव को दर्शाते हैं।

(जैसा कि जानेमाने चित्रकार एलएन भावसार ने अपने रिसर्च के आधार पर बातया।)

story ofa great painter