बिजली कंपनी के दफ्तर में लगी आग

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के निर्माण संभाग के चांदबड़ स्थित कार्यालय भवन की पहली मंजिल पर स्थित रिकॉर्ड रूम मेंं शनिवार सुबह आग लगने से 22 साल पुरानी फाइलें जलकर खाक हो गईं। बिजली कंपनी को शक है कि आग जानबूझकर लगाई गई है। इस संबंध में अफसरों ने स्टेशन बजरिया थाने में शिकायत की है।
आग बुझाने के लिए नगर निगम की चार दमकलें मौके पर पहुंचीं। तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग सुबह करीब 8.25 बजे लगी, वहां मौजूद कर्मियों ने धुआं निकलते देख पुलिस और ननि के फायर कंट्रोल रूम को सूचना दी। कंपनी के महाप्रबंधक एमएस अत्रे ने बताया कि रिकॉर्ड रूम में रिकॉर्ड की फाइलें रखी थीं। आशंका है कि किसी ने जानबूझकर आग लगाई है। उन्होंने बताया कि एक साल पहले अज्ञात लोगों ने यहां चोरी करने की कोशिश की थी। इसकी जानकारी भी पुलिस को दी गई थी।