पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • निशा में स्वर लहरियों के साथ लहराता धूम मचाता आया वसंत

निशा में स्वर लहरियों के साथ लहराता धूम मचाता आया वसंत

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
साहित्य संगीत एवं कला मंच गुना ने संगीत निशा आयोजित कर किया वसंतोत्सव का स्वागत

भास्कर संवाददाता|गुना

साहित्य एवं संगीत कला मंच गुना द्वारा बसंतोत्सव के परिप्रेक्ष्य में संगीत निशा आयोजित की गई। इसकी शुरूआत में दुर्ग छत्तीसगढ़ से आए ख्याति प्राप्त साहित्यकार बुद्धिलाल पाल ने गुना शहर के संगीत साधक यशवंत गिरि गोस्वामी को शॉल व श्रीफल और सम्मान पत्र देकर ‘बसंत सम्मान-2017’ से सम्मानित किया।

निशा का शुभारंभ श्री गोस्वामी ने मारू विहाग व बसंत राग में बांसुरी वादन किया। इसके वाद कबीर राजोरिया ने गिटार पर राग वृंदवानी सारंग व ख्याल गायन प्रस्तुत किया। अशोकनगर के ख्यात संगीत साधक राजकुमार जैन ने बसंत, बागेश्री, बहार, मालकौंस, भूपाली, विहाग, भैरव राग सहित कई रागों में ख्याल गायकी और तराने प्रस्तुत किए।

इसके अलावा अन्य कलाकारों ने ख्याल, गीत, भजन और गजल व तबले पर शोलों वादन की प्रस्तुतियां दी। इनमें उमा सोनी, रामदुलारी शर्मा, समीक्षा दुबे, मगनलाल सोनी, सुरेश शर्मा, बृजकिशोर शर्मा, दर्शन दुबे, गौरव जैन, सूर्यांश आदि प्रमुख थे। इन सभी गायकों के साथ तबले के साथ संगत में रतनलाल पटेल, राजकुमार जैन, अशोक ओझा व सूर्यांश थे। संगीत निशा में स्वर लहरिया रात 9 से सुबह 7 बजे तक गूंजती रहीं। संचालन संतोष दुबे ने किया। आभार अनिल दुबे ने माना। इस मौके पर बड़ी संख्या में कलाकार और श्रोतागण मौजूद थे।

कार्यक्रम में प्रस्तुित देते कलाकार।

खबरें और भी हैं...