• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • बडे़ स्कूलों पर हाथ डालने से परहेज, आरटीओ अमले ने लिंक रोड से किया किनारा, गोला का मंदिर से केवल 2 बस

बडे़ स्कूलों पर हाथ डालने से परहेज, आरटीओ अमले ने लिंक रोड से किया किनारा, गोला का मंदिर से केवल 2 बसेंं जब्त

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीधी बात
स्कूली बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ का सच
परिवहन विभाग ने शुक्रवार को अनफिट स्कूल बसों पर कार्रवाई की दिशा ही बदल दी। शिवपुरी लिंक रोड पर बडे़ स्कूलों की खटारा बसें जब्त करने से परहेज करते हुए अमले ने कार्रवाई गाेला का मंदिर, मोहनपुर रोड पर शुरू की। करीब 45 बस, स्कूल वाहनों को चेक करने का दावा कर अमले ने दो बसें जब्त कर बिजौली थाने में खड़ी करवा दी हैं। उधर शिवपुरी लिंक रोड पर एक सप्ताह पहले अनफिट घोषित 11 बसें शुक्रवार को भी बेखौफ दौड़ीं। दैनिक भास्कर ने सवाल किया तो आरटीओ एसपीएस चौहान ने स्टाफ कम होने की दलील दी। दूसरा पहलू ये है कि एक सप्ताह से जारी इस कार्रवाई के लिए उन्होंने न ही सीनियर अफसरों से अतिरिक्त स्टाफ मांगा, न पुलिस और ट्रैफिक अफसरों से मदद ली।

शुक्रवार को परिवहन विभाग के एएसआई हमीर सिंह, मनोज राठौर, जीतेंद्र, राघवेंद्र व रीता की टीम ने रामश्री किड्स स्कूल के 13 वाहनों को चेक कर उन्हें फिट बताया। मॉर्निंग स्टार स्कूल मेंं 14 बस व 3 मारूति वेन चेक की, लेकिन उनमें कोई कमी नहीं पाई । गोले का मंदिर-मोहनपुर रोड पर टीम ने 15 बसों को चेक करते हुए विद्यास्थली स्कूल की एक अनफिट बस को व जीडी पब्लिक स्कूल की एक बस को बिना बीमा के जब्त कर बिजौली थाने में रखवा दिया।

स्टाफ की कमी है, एक टीम ही बना पाए

शिवपुरी लिंक रोड पर अनफिट स्कूल बसों को चेक करने की कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है?

-शिवपुरी लिंक रोड पर पूर्व में कार्रवाई की गई थी, आज गोला का मंदिर, मुरार में कार्रवाई की गई।

लिंक रोड पर बच्चे खतरे मेंं सफर कर रहे हैं?

-हमारे पास अमले की कमी है। इसलिए एक ही टीम बना पा रहे हैं। आगे हम ट्रैफिक पुलिस से मदद लेकर अब अलग-अलग टीमें बनाकर अनफिट बसों को जब्त करने की कार्रवाई करेंगे।

सीबीएसई बोर्ड के अजमेर रीजन के अधीक्षक तेजकुमार ने दैनिक भास्कर से कहा-बसों में बच्चे सुरक्षित रहें यह प्रशासन व परिवहन विभाग की जिम्मेदारी है। उन्हें सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का पालन कराना चाहिए। यदि अनफिट बसें स्कूलों में चल रहीं है तो उन्हें जब्त करने की कार्रवाई की जाना चाहिए।

सीबीएसई ने कहा- बसों की जवाबदेही प्रशासन की है

गोेला का मंदिर क्षेत्र में अनफिट बस जब्त करता आरटीओ अमला।

तीसरे दिन भी लिंक रोड पर दौड़ीं 11 अनफिट बसें; कम स्टाफ की दलील दे रहे आरटीओ ने न अमला मांगा न ट्रैफिक पुलिस से मदद
मामला गंभीर है
स्कूलों में अनफिट बसों संचालन मामला गंभीर है। अनफिट बसों को जब्त करने की कार्रवाई तेज की जाएगी। यदि अमला कम है तो अतिरिक्त अमले की व्यवस्था की जाएगी। डॉ. शैलेंद्र श्रीवास्तव, आयुक्त परिवहन

मदद देने को तैयार

अनफिट बसों पर कार्रवाई के लिए परिवहन विभाग हम से जो भी मदद मांगेगा, हम तत्काल मदद करेंगे। मनोज वर्मा, डीएसपी ट्रैफिक

खबरें और भी हैं...