• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • इटावा ट्रैक पर पहले स्पीड बढ़ेगी फिर ट्रेनें

इटावा ट्रैक पर पहले स्पीड बढ़ेगी फिर ट्रेनें

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर -भिंड -इटावा ट्रैक पर ट्रेनें सीधे गुजर सकें इसके लिए रेलवे ने तैयारियां शुरू कर दी हंै। प्रथम चरण में ग्वालियर-इटावा ट्रैक पर ट्रेनों की स्पीड बढ़ाई जाएगी। इसके बाद कानपुर व लखनऊ के लिए जाने वाली ट्रेनें इस रूट से निकलेंगी। ट्रैक की स्पीड बढ़ाने का काम जल्द ही शुरू किया जाएगा।

ग्वालियर से भिंड होते हुए इटावा के लिए रेलवे ट्रैक तो चालू हो गया है लेकिन सिर्फ पैसेंजर ट्रेन ही इस पर चल रही हैं। रेलवे कानपुर की ओर जाने वाली सुशासन एक्सप्रेस, बरौनी एक्सप्रेस सहित करीब आधा दर्जन ट्रेनों को वाया इटावा होकर गुजारने की तैयारी कर रही है। इनमें कुछ ट्रेनें झांसी से उरई होते हुए कानपुर जाती हैं। ये ट्रेनें ग्वालियर, इटावा होते हुए कानपुर ले जाने पर रेलवे विचार कर रही है। वर्तमान में ग्वालियर-इटावा ट्रैक पर ट्रेन 55 से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ही चल सकती हैं। लिहाजा रेलवे प्रशासन इस ट्रैक की स्पीड बढ़ाकर 80 से 85 किमी करेगा। यह काम जल्द शुरू किया जाएगा।

कई शहरों से जुड़ जाएगा ग्वालियर
इटावा ट्रैक पर स्पीड बढ़ने के बाद मेल और एक्सप्रेस ट्रेन शुरू होने पर ग्वालियर के यात्री देश के कई शहरों से जुड़ जाएंगे। वाया इटावा ट्रेन चलने पर यात्रियों को कोलकाता, पटना, गोरखपुर, मालदा टाउन, हावड़ा, राउरकेला, पुरी, गुवाहाटी, न्यू जलपाइगुड़ी, सिलीगुड़ी, कालका, कटिहार, जोधपुर, आजमगढ़ आने-जाने में पैसों के साथ समय की भी बचत होगी।

ट्रैक की स्पीड बढ़ाने का काम होगा
ग्वालियर- इटावा ट्रैक की स्पीड बढ़ाने का काम जल्द ही शुरू किया जाएगा। ट्रैक की स्पीड बढ़ने के बाद ग्वालियर से वाया इटावा होकर ट्रेनें चलाना शुरू कर दिया जाएगा। विजय कुमार, सीपीआरओ इलाहाबाद जोन रेलवे

यात्रियों का बचेगा समय और पैसा
सुशासन एक्सप्रेस यदि वाया इटावा होकर जाती है तो यात्रियों का 9 घंटे का समय बचेगा। ग्वालियर से वाया झांसी होते हुए कानपुर जाने में 317 किमी की यात्रा करनी पड़ती है। जब ग्वालियर से वाया इटावा होते हुए ट्रेनें कानपुर जाएंगी तो यात्रियों को 266 किमी का सफर तय करना पड़ेगा। इससे उनका पैसा और समय दोनों की बचत होगी।

अच्छी खबर
खबरें और भी हैं...