• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • ऑनलाइन खरीदारी कम, कपड़ा बाजार पर ज्यादा भरोसा

ऑनलाइन खरीदारी कम, कपड़ा बाजार पर ज्यादा भरोसा / ऑनलाइन खरीदारी कम, कपड़ा बाजार पर ज्यादा भरोसा

भले ही नामी-गिरामी कंपनियां परिधानों की ऑनलाइन बिक्री में उतर आई हों, इसके बावजूद लोगों का विश्वास कीमत और क्वालिटी को लेकर अभी भी बाजार में कपड़े के शोरूम और दुकानों पर बना हुआ है।

Nov 05, 2015, 04:29 AM IST
कपड़ों को खरीदते ग्राहक। कपड़ों को खरीदते ग्राहक।
ग्वालियर. भले ही नामी-गिरामी कंपनियां परिधानों की ऑनलाइन बिक्री में उतर आई हों, इसके बावजूद लोगों का विश्वास कीमत और क्वालिटी को लेकर अभी भी बाजार में कपड़े के शोरूम और दुकानों पर बना हुआ है। दरअसल दीपावली के लिए कपड़ों की खरीदारी शुरू हो गई है। इसे देखते हुए कारोबारियों ने ब्रांडेड और नॉन ब्रांडेड कंपनियों के अलग-अलग रेंज में सिले हुए कपड़े मंगाए हैं। बेहतर खरीदारी की बदौलत इस दीपावली पर कपड़ा बाजार में करीब दो करोड़ रुपए का कारोबार हाेने की उम्मीद कारोबारियों ने जताई है।

शाेरूम संचालकों ने इस बार लाेगों की खरीदारी की क्षमता और पसंद के अनुसार ही बच्चों, पुरुषों और महिलाओं के कपड़े मंगाए हैं। नॉन ब्रांडेड कपड़ों के अलावा ब्रांडेड में लोकल ब्रांड, नेशनल ब्रांड और इंटरनेशनल ब्रांड के सिलेसिलाए परिधान शामिल हैं।

बच्चों के लिए फैंसी कपड़े
बच्चों के लिए उनकी उम्र के अनुसार फैंसी कपड़े भी हैं तो सादा सिले हुए वस्त्र भी हैं। त्योहार और शादियों के लिए फैंसी कपड़ों में कमीज, हाफ पैंट और फुल पैंट की रेंज 500 से लेकर 2000 रुपए तक है। कारोबारियों के अनुसार बच्चों के कैपरी, फैंसी फ्रॉक, लेगीज एवं टॉप अधिक बिक रहे हैं। कुछ शोरूम संचालकों ने इंडोवेस्टर्न, वूलन, पार्टी वियर, कैजुअल वियर, वेस्कोससेट तथा पठानी कपड़े भी मंगाए हैं।
सलवार सूट व साड़ियाें की डिमांड
महिला परिधानों में स्टिच(सिले) और नॉन स्टिच (बगैर सिले) सलवार सूट अहमदाबाद, सूरत और जैतपुर से लाए गए हैं। स्टिच और नॉन स्टिच वाले सलवार सूट की रेंज पूरी तरह खरीदारों के अनुरूप है। इनकी कीमत 500 रुपए से लेकर तीन हजार रुपए तक है। त्योहार के बाद आगे शादियों को देखते हुए लहंगा-चुनरी भी खरीदे जा रहे हैं। लहंगा-चुनरी की रेंज दो हजार रुपए से 25 हजार रुपए तक है। सूरत की सिंथेटिक साड़ियां 250 से 2500 रुपए तक बिक रही हैं। जयपुर और कलकत्ता की वर्क वाली साडिय़ों की कीमत चार हजार से लेकर 50 हजार रुपए तक है। सिल्क साड़ियां 500 से पांच हजार अौर कॉटन की साड़ियां 500 से 2000 रुपए की की रेंज में हैं।
शर्ट-जींस की मांग
पुरुष परिधानों में ब्रांडेड शर्ट, टी-शर्ट, जींस, कुर्ता-पायजामा प्रिंटेड और चेक में लाए गए हैं। नॉन ब्रांडेड शर्ट की रेंज 500 से 1000 रुपए और ब्रांडेड शर्ट की रेंज 1500 से 2500 रुपए तक है। इसी तरह जींस में ब्रांडेड जींस की रेंज क्वालिटी अनुसार 800 से लेकर 2000 रुपए तक है। जो लोग जींस पहनना पसंद नहीं करते उनके लिए सादा पैंट भी लाए गए हैं। इनकी कीमत भी 800 से लेकर 2000 रुपए तक है।
कपड़ों की खरीदारी शुरू
कपड़ा बाजार में खरीदारी शुरू हो गई है। छोटे दुकानदारों से लेकर बड़े कपड़े के शोरूम इस बार बेहतर कपड़ों की क्वालिटी लेकर आए हैं। इस साल खरीदारी बेहतर रहने की संभावना है।
देवेंद्र खंडेलवाल, कपड़ा बाजार विशेषज्ञ
X
कपड़ों को खरीदते ग्राहक।कपड़ों को खरीदते ग्राहक।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना