पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

केआरजी कॉलेज से जांच कमेटी ने जब्त किए दस्तावेज

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर। केआरजी कॉलेज में वित्तीय अनियमितताओं की जांच के लिए बनी पांच सदस्यीय कमेटी ने शनिवार को कॉलेज के दस्तावेज खंगाले। जांच कमेटी ने बीबीए, एमबीए के लिए बनाए गए नवीन भवन और टीन शेड का निरीक्षण किया। इसके बाद निर्माण कार्य और खरीदी से संबंधित दस्तावेज चेक किए। इनमें से कई दस्तावेज कमेटी ने जब्त कर लिए हैं।
50 लाख रुपए की लागत से बनाए गए बीबीए-एमबीए के नवीन भवन का घटिया निर्माण कार्य तथा 30 लाख रुपए के टीन शेड बनाने में हुई वित्तीय अनियमितता, एलसीडी प्रोजेक्टर सहित अन्य सामान खरीदने, पांच शिक्षकों को वेतन नहीं देने तथा छात्राओं को हो रही परेशानी सहित कई शिकायतें मुख्यमंत्री से की गई हैं। इस मामले में मुख्यमंत्री ने उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को कार्रवाई के निर्देश दिए।
प्रमुख सचिव के निर्देश पर कलेक्टर ने एसडीएम अनुराग सक्सेना की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय जांच कमेटी बनाई। इसमें उच्च शिक्षा विभाग के क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक डॉ. आईबी सिंह, ओएसडी डॉ. गिरीश शर्मा, पीडब्ल्यूडी के उपयंत्री ओएन शर्मा तथा सहायक कोषालय अधिकारी नीतू खरे को रखा गया है।
गड़बड़ी की आशंका
वित्तीय अनियमितताओं की शिकायत मिलने पर कलेक्टर के निर्देशानुसार जांच शुरू कर दी है। गड़बड़ियों की आशंका के चलते कुछ दस्तावेज भी जब्त किए हैं।
अनुराग सक्सेना, एसडीएम
समिति ने जो जानकारी और दस्तावेज मांगे थे, वह उपलब्ध करा दिए गए हैं। मेरे कार्यकाल में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है।
डॉ. अर्चना भारद्वाज, प्राचार्य, केआरजी कॉलेज