• Hindi News
  • Ganpati Festival Kalsarp Dosh Pitradosh Problem Solution

इस बार करेंगे ये सरल उपाय तो पितृदोष के साथ कालसर्प दोष से भी मिलेगी मुक्ति

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर। भाद्रपद शुक्ल पक्ष चतुर्थी (गणेश चतुर्थी) इस बार नौ सितंबर सोमवार को है। ज्योतिर्विदों के अनुसार, इस दिन कालसर्प योग का पूर्ण प्रभाव रहेगा। ऐसी स्थिति में गणेश आराधना से पितृ दोष की शांति के साथ कालसर्प दोष से मुक्ति मिलेगी।

ज्योतिषाचार्य विजयभूषण वेदार्थी के अनुसार, सोमवार को चतुर्थी शाम चार बजे तक रहेगी। इस वर्ष गणेश जयंती के दिन कालसर्प योग का पूर्ण रूप से प्रभाव रहेगा। इस दिन व्रत, दान तथा गणेश आराधना करने से पितृदोष की शांति के साथ-साथ कालसर्प दोष से भी छुटकारा मिलेगा।

पूरी खबर पढ़ने के लिए आगे की स्लाइड पर क्लिक करें-