पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • I Could Not Save His Son, Was Married Two Months A

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मैं अपने बेटे को नहीं बचा सका, दो माह पूर्व हुई थी शादी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर. मेरी दुनिया आंखों के सामने ही उजड़ गई, मैं अपने बेटे को नहीं बचा सका। मेरी बंदूक ही मेरे होनहार बेटे की मौत का सामान बन गई। यह कहते हुए रणवीर सिंह भदौरिया का गला रुंध गया और आंखों में आंसू भर आए। आगे उनके मुंह से बोल नहीं निकले। उन्हें अपने छोटे बेटे सुनील से काफी उम्मीदें थी, यह उम्मीद उन्हीं के सामने ढेर हो गईं। सुनील ने अपनी पत्नी संध्या द्वारा खुदकुशी किए जाने से सदमे में आकर अपने पिता की राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। दोहरी खुदकुशी का यह हादसा शुक्रवार को दीनदयाल नगर के जीएल-264 में सेना के रिटायर्ड सूबेदार रणवीर सिंह भदौरिया के घर हुआ। मैं जब तक उसे रोक पाता.. मैं दोपहर घर के ग्राउंड फ्लोर पर अपने कमरे में सो रहा था। घर की पहली मंजिल पर बेटा सुनील (29) व बहू संध्या (26) थी। दोपहर करीब 2.30 बजे ऊपर से गेट बजाने की आवाज आई। ऊपर जाकर देखा तो सुनील कमरे का दरवाजा पीट रहा था। उसने बताया कि संध्या अंदर कमरे में है और उसने कुछ कर लिया है। इसके बाद उन्होंने भी कमरे के दरवाजे को सुनील के साथ मिल कर धक्के मारकर खोला। कमरे के अंदर संध्या बेड पर पड़ी थी और दीवार के पास उसके सिर का हिस्सा व खून पड़ा हुआ था, बंदूक बेड से टिकी हुई थी। यह देख वह और उनकी पत्नी रोने लगी, तभी सुनील बंदूक उठाकर सीढ़ियों से नीचे उतरा। वह भी एक क्षण रुककर सुनील के पीछे नीचे आए। लेकिन सुनील ने उनके कमरे में घुसकर बंदूक को अपने सीने से टिका लिया। वह चीखते हुए उसे रोकने की कोशिश करते हुए तेजी से आगे बढ़े, लेकिन तब तक उसने ट्रिगर दबा दिया। गोली सुनील के सीने में घुसकर जबड़े भेदती हुई निकल गई। सुनील को नीचे गिरते हुए उन्होंने साधा और अस्पताल ले जाने के लिए उठाकर कार में रखा, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस को सुनील का शव उसकी आल्टो कार में ही मिला। (जैसा कि सुनील के पिता रणवीर सिंह ने शाम को दैनिक भास्कर को बताया) कॉल डिटेल खोल सकता है राज पुलिस ने घटना के बाद मृतक दंपति के तीन मोबाइल फोन जब्त किए हैं। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि दंपति के इस आत्मघाती कदम का राज मोबाइल फोन की कॉल डिटेल से खुल सकता है। पुलिस का अनुमान है कि पति-पत्नी का एक दूसरे पर शक करना भी इस हादसे की वजह हो सकती है। पिता की राइफल से गोली मारी जिस 12 बोर की राइफल से सुनील व उसकी पत्नी संध्या ने खुदकुशी की है, वह उनके पिता रणवीर सिंह के नाम है। पिता कैनरा बैंक में सिक्योरिटी गार्ड हैं, लेकिन पत्नी की तबीयत खराब होने के कारण दो दिन से वह काम पर नहीं जा रहे थे। इसीलिए रायफल बेटे के कमरे की अलमारी में रख दी थी। पुलिस ने चार खोखे चले हुए व एक जिंदा राउंड मौके से बरामद किया है। गुड़गांव की निजी कंपनियों में पदस्थ हैं दोनों भाई: परिजनों से पता लगा कि रणवीर सिंह के दो बेटे हैं, सुशील सिंह व सुनील सिंह। सुशील बड़ा है और पेशे से इंजीनियर है। वह गुड़गांव की एक कंपनी में कार्यरत है, जबकि मृतक सुनील ने मल्टी मीडिया वेब डिजाइनिंग का कोर्स किया था और शादी से पहले तक वह भी अपने भाई के पास रहकर ही गुड़गांव की एक टैक्सटाइल्स कंपनी में नौकरी करता था। फिर ऐसा क्या हुआ घर में काम करने वाली बाई ममता ने बताया कि रोज की तरह शुक्रवार को भी वह सुबह आठ बजे श्री भदौरिया के घर काम के लिए आई थी। जब 9.30 बजे वह वापस लौट रही थी तभी नीचे की मंजिल में संध्या व सुनील भदौरिया दोनों बैठे हुए थे और दोनों के बीच काफी हंसी मजाक चल रहा था। तब तो कहीं से भी कोई विवाद या तनाव उनके चेहरे पर दिखाई नहीं दे रहा था। वॉश रिपोर्ट से होगी पड़ताल डीडी नगर में युवक-युवती की खुदकुशी के मामले में शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट व हैंड वॉश रिपोर्ट आने के बाद पड़ताल को आगे बढ़ाया जाएगा। जब्त मोबाइल फोन की कॉल डिटेल भी निकलवाई जा रही है। नीरज पांडे, सीएसपी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

और पढ़ें