पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Most D.ed. Colleges In City Are Fake, Action Soon

फर्जी मिले जिले के अधिकतर डीएड कॉलेज

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर। जिले के अधिकतर डीएड कॉलेज जांच में फर्जी पाए गए हैं। जांच टीमों को कॉलेजों में न छात्र मिले, न स्टाफ। कुछ कॉलेज तो बंद भी मिले। टीमों ने 20 दिन में 22 कॉलेजों की जांच की। जांच रिपोर्ट के आधार पर कलेक्टर ने माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव को इन कॉलेजों की मान्यता खत्म करने की सिफारिश की है। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव संतोष मिश्रा से दो जनवरी को हजीरा निवासी देवेंद्र प्रताप सिंह ने फर्जी बीएड एवं डीएड कॉलेजों को लेकर शिकायत की थी। इसमें शहर के 20 कॉलेजों के नाम थे। शिकायत में इस बात का उल्लेख था कि अधिकतर कॉलेजों के पास भवन व स्टाफ नहीं है। शिकायत की जांच के लिए श्री मिश्रा ने 18 जनवरी को कलेक्टर पी नरहरि को पत्र लिखा। इसके बाद कलेक्टर ने डीएड कॉलेजों की जांच के लिए छह टीमें गठित कीं। रिपोर्ट चार दिन पहले कलेक्टर को मिली।


खत्म होगी संबद्धता
माशिमं के सचिव संतोष मिश्रा ने कहा कि कमियों के आधार पर कॉलेजों को संबद्धता खत्म करने का नोटिस जारी करेंगे। किस कॉलेज में कितने छात्र पढ़ रहे हैं, इसकी जानकारी ली जाएगी। यदि छात्र फर्जी होंगे तो उनके प्रवेश निरस्त होंगे।