पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वीडियोग्राफी कर निजी कंपनी करेगी ई- चालान

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर. ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर अब पुलिस के बजाय प्राइवेट कंपनी नजर रखेगी। यह कंपनी नियम तोड़ने वाले वाहनों की वीडियोग्राफी करेगी और फोटो खींचेगी। इसके बाद ई-चालान वाहन मालिक के घर भेजेगी।
ई-चालान पहुंचने के बाद चालान की राशि ट्रैफिक पुलिस के पास जमा की जाएगी। नगर निगम व ट्रैफिक पुलिस योजना को अंतिम रूप देने की तैयारी कर रहे हैं। नगर निगम टेंडर जारी कर कंपनी का चयन करेगा और खुद इस व्यवस्था की मॉनीटरिंग करेगा।
ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई में तेजी लाने के लिए हैदराबाद की तर्ज पर नया सिस्टम विकसित किया जा रहा है। इस सिस्टम के तहत निजी कंपनी की सेवाएं ली जाएंगी।
यह कंपनी शहर के प्रमुख स्थानों पर फोटोग्राफी कराएगी, कैमरे लगवाएगी और इन कैमरों से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों की फोटो खींचकर वाहन मालिकों के घर भेज दिए जाएंगे। इसके बाद वाहन मालिक से जुर्माने के अलावा 20 रुपए सेवा प्रदाता कंपनी की फीस भी वसूली जाएगी।
अभी ट्रैफिक पुलिस कर रही चालान भेजने का काम
ई-चालान के लिए अभी शहर के पंद्रह चौराहों पर सिटी सर्विलांस सिस्टम के तहत लगे कैमरों का उपयोग किया जा रहा है। इन कैमरों से की गई वीडियो रिकॉर्डिग के आधार पर पुलिस वाहन मालिकों के घर चालान भेजती है और जुर्माना वसूलती है।
निगम जारी करेगा टेंडर
ई-चालान की जिम्मेदारी प्राइवेट कंपनी को सौंपने की तैयारी चल रही है। कंपनी के चयन के लिए नगर निगम टेंडर जारी करेगा।
अजय त्रिपाठी, डीएसपी, ट्रैफिक