पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो लोगों की मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम, बस भी मौके से गायब

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दारू अड्डे पर कार्रवाई करते पुलिसकर्मी
अंबाह. रुधावली गांव के पास बुधवार की शाम तेज गति से आ रही यात्री बस ने दो बाइक सवारों को कुचल दिया। दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना के बाद ड्राइवर बस को मौके पर छोड़कर फरार हो गया। इसके बाद पुलिस ने उस बस को कस्टडी में ले लिया, लेकिन देर रात बस घटनास्थल से गायब हो गई। इससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए।
ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस से सांठगांठ कर मालिक बस को लेकर गया है। उन्होंने आक्रोशित होकर उसैदघाट रोड पर चक्काजाम कर दिया। हंगामा बढ़ने की खबर सुनकर महुआ थाना प्रभारी बीएम नायक मौके पर पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों को सही कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। इस बीच एक घंटे तक दोनों ओर का ट्रैफिक बंद रहने से ग्रामीणों को परेशानी उठानी पड़ी।

याद रहे कि बीती शाम रुधावली पंचायत के गोहदूपुरा निवासी रामवीर पुत्र हरिभान सिंह तोमर अपने रिश्तेदार कुम्हेर सिंह पुत्र कप्तान सिंह सिकरवार के साथ बाइक क्रमांक यूपी 80 डीवाई 3603 पर सवार होकर गांव गोहदूपुरा जा रहे थे। इसी दौरान सामने से आ रही यात्री बस क्रमांक एमपी06 बी 2267 के चालक ने वाहन को तेजी व लापरवाही से चलाते हुए सामने से बाइक में टक्कर मार दी। गंभीर रूप से दोनों घायलों को परिजन इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही दोनों लोगों ने रास्ते में दम तोड़ दिया। उधर घटना के बाद बस का चालक वाहन को मौके पर छोड़कर भाग गया।
इस बीच ग्रामीणों ने बस को पुलिस के हवाले कर दिया। रुधावली गांव के अंकुश तोमर की रिपोर्ट पर पुलिस ने मर्ग कायम कर कार्रवाई शुरू कर दी। इसके बाद घटना स्थल पर बस को छोड़कर महुआ पुलिस थाने वापिस लौट गई। रात के समय पुलिस से साठगांठ कर बस के मालिक ने दुर्घटना करने वाली बस को घटनास्थल से उठवा लिया। यह देख सुबह होते ही ग्रामीणों ने पुलिस कार्रवाई से खफा होकर उसैदघाट रोड पर जाम लगा दिया।
अवैध शराब कारोबारी हुए गायब
प्रदर्शनकारी ग्रामीणों के मुताबिक रुधावली गांव के पास कुछ टपरों में अवैध शराब का कारोबार चलता है। जहां अक्सर राहगीर व वाहन चालक बैठक कर शराब पीते हैं। प्रदर्शन के दौरान ग्रामीण मांग करने लगे कि रुधावली बस स्टेंड के पास स्थित अवैध शराब के अड्डों को समाप्त किया जाए। ग्रामीणों की मांग पर महुआ पुलिस अवैध शराब कारोबारियों को पकड़ने के लिए टपरों पर पहुंची। लेकिन मौके पर खाली पऊओं के अलावा कुछ नहीं मिला। ग्रामीणों के मुताबिक शराब कारोबारियों को पुलिस कार्रवाई की पहले से ही भनक लग गई थी, जिसके चलते वे रात को टपरों से भाग गए।
बस बरामद कर लेंगे
बस को लेकर मालिक कहां जाएगा, एक-दो दिन में ही हम बस को बरामद कर लेंगे। कार्रवाई के दौरान टपरों पर खाली पऊओं के अलावा कुछ नहीं मिला। गांव के कुछ युवाओं ने उसैद रोड पर आवागमन बंद कर दिया था, जिसे समझाइश के बाद खुलवा दिया गया।
-बीएम नायक, थाना प्रभारी महुआ
आगे की स्लाइड में देखें चक्काजाम करते ग्रामीण..