पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तेज हवा चली और उड़ गए सभी दावे

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर। मेंटेनेंस पर करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी शहर की बिजली व्यवस्था दुरुस्त नहीं हो पाई। स्थिति यह है कि तेज हवा चलने पर तार टूटने तथा ट्रांसफार्मर खराब होने की घटनाएं हो रही हैं। शनिवार-रविवार की रात तेज हवा चलने के कारण तार टूट गए, जिससे कई इलाकों की बिजली सप्लाई ठप हो गई।
सप्लाई बहाल करने में मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को चार से दस घंटे तक लग गए। बिजली नहीं आने से लोगों को पेयजल के लिए भटकना पड़ा। मेंटनेंस के दौरान छह से आठ घंटे की बिजली कटौती की जाती है, इसके बाद भी लोगों को परेशानी से छुटकारा नहीं मिल पाता।
कंपू क्षेत्र
कंपू क्षेत्र में बिजली का तार टूटने से नया बाजार, तेली की बजरिया, अशोक कॉलोनी आदि क्षेत्रों की बिजली सप्लाई सुबह सात बजे बंद हो गई। बिजली कर्मचारियों को लाइन जोड़ने में चार घंटे का समय लगा।
दुकानों में छाया अंधेरा
नया बाजार व्यावसायिक क्षेत्र होने की वजह से व्यापारियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। रविवार होने के कारण बाजार में ग्राहकों की संख्या भी अधिक थी। जो दुकानें इमारतों में काफी अंदर हैं, वहां अंधेरा छाया रहा।
विनयनगर क्षेत्र
रात तीन बजे तेज हवा के कारण बिजली के तार टूटने से विनय नगर सेक्टर 2,3,4, पत्रकार कॉलोनी, उरवाई गेट, शब्द प्रताप आश्रम आदि क्षेत्र की बिजली सप्लाई बंद हो गई। क्षेत्रीय नागरिकों ने इसकी सूचना पावर हाउस को दी। बिजली कंपनी कर्मचारियों को तार जोड़ने में दस घंटे का समय लग गया। दोपहर एक बजे सप्लाई बहाल हुई।
पानी के लिए परेशान हुए लोग
बिजली कटौती के कारण स्थानीय निवासियों को पेयजल के लिए परेशानी का सामना करना पड़ा। विनय नगर में बोरिंग से पानी की सप्लाई की जाती है। बिजली नहीं होने से बोरिंग चालू नहीं हो सकी। लोग नहाने व कपड़े धोने के लिए बिजली सप्लाई बहाल होने का इंतजार करते रहे।
सप्लाई बहाल कर दी गई
रात में तेज हवा के साथ हुई बारिश के दौरान कुछ स्थानों पर बिजली के तार टूट गए थे। सूचना मिलने के बाद लाइनों को सुधारने का काम किया गया। इससे कुछ क्षेत्रों की बिजली सप्लाई प्रभावित हुई। तार जोड़ने के बाद बिजली सप्लाई बहाल कर दी गई।
पीके तिवारी, महाप्रबंधक, सिटी सर्किल, मप्र मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी