• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • अस्थायी शौचालय के सहारे आनन फानन ओडीएफ हुई नगरपालिका

अस्थायी शौचालय के सहारे आनन फानन ओडीएफ हुई नगरपालिका

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दिल्ली में नगर पालिका अध्यक्ष आज लेंगे ओडीएफ का प्रमाण पत्र

भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद

नगरपालिका गुरुवार को पूरी तरह खुले में शौच मुक्त होने पर दिल्ली में सम्मानित होगी। नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ओडीएफ का प्रमाण पत्र लेंगे। आनन-फानन में ओडीएफ बनाई गई नपा अस्थायी व्यवस्था के सहारे है। झुग्गी बस्ती, आदमगढ़, संजय नगर, बालागंज, बीटीआई क्षेत्र, बड़ी पहाड़िया, छोटी पहाड़िया क्षेत्र में नपा ने अस्थायी शौचालय रखे हैं। नपा अफसर हर घर में इतनी जल्दी शौचालय नहीं बनाए जा सकने का तर्क दे रहे हैं। वहीं लोगों का कहना है कि शहर में पक्के शौचालय बनने चाहिए। बीते दिनों कमिश्नर ने शौचालय के काम में प्रगति नहीं होने नपा सीएमओ को फटकार लगाई थी। इसके बाद नगर ओडीएफ करने के लिए नपा जुट गई। पहाड़िया पर सड़क पर गड्ढे खुदवाकर नपा ओडीएफ का दावा कर रही है। इसके आधार पर नपा को दिल्ली में ओडीएफ सिटी का सर्टिफिकेट मिलेगा। सर्टिफिकेट को लेने नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल बुधवार शाम को दिल्ली गए। पीआरओ प्रदीप मिश्रा ने बताया कि शहरी विकास मंत्रालय होशंगाबाद नगरपालिका को सर्टिफिकेट प्रदान करेगा। समारोह दिल्ली के राष्ट्रीय मीडिया सेंटर में होगा।

नगरपालिका सीएमओ पवनसिंह ने बताया शौचालय का उपयोग व्यवहार परिवर्तन से आता है। जहां भी लोग बहार जाते है। उनके लिए सामुदायिक शौचालय की व्यवस्था की है।

बड़ी, छोटी पहाड़िया, भोपाल मार्ग पर नहीं व्यवस्था
बड़ी पहाड़िया और संजय नगर सहित भोपाल रोड की अन्य बस्तियों के लोग खुले में शौच जाने को मजबूर हैं। यहां रहने वालों के पास राशनकार्ड नहीं होने से नपा शौचालय नहीं बनवा रही है। इसके अलावा आदमगढ़ रेलवे किनारे भी लोग शौच के लिए जाते हैं। टीचिंग ग्राउंड, छोटी पहाड़ी में भी कोई व्यवस्था नहीं है।

नपा टीम और नगरवािसयों के सहयोग से हुआ संभव
नपा को खुले में शौच मुक्त करने के प्रयास काफी दिनों से चल रहे थे। इस मिशन को पूरी तरह जिम्मेदारी पूर्वक लिया गया और नगर को खुले में शौच से मुक्त कर दिया। इस स्वच्छ अभियान में सफलता नपा की टीम और नगरवासियों के सहयोग से ही यह संभव हो पाया है। - अखिलेश खंडेलवाल, नपाध्यक्ष

चलित शौचालय रखवाए
ओडीएफ के तहत शहर में पक्के शौचालय बनवाने थे, लेकिन नपा ने बस्तियों में अस्थाई शौचालय रखवा दिए हैं। प्लास्टिक से बने यह शौचालय आदमगढ़ बस्ती के किनारे सड़क पर रखे हैं। 11 सामुदायिक शौचालय भी शहर में हैं।

बाबाओं को दिए कार्ड
नपा ने सेठानीघाट पर स्थाई बाबाओं की पहचान कर शौचालय उपयोग के कार्ड बनवाए हैं। अभी भी रोज आने वाले परिक्रमा वासियों के लिए कोई सुविधा नहीं है। सेठानीघाट के अलावा किसी घाट पर सामुदायिक शौचालय की सुविधा नहीं है।

इससे बाहर शौचालय जाने वालों की समस्या बनी रहेगी।

होशंगाबाद| आदमगढ़ पुलिया के पास नपा ने रखा अस्थाई शौचालय।

खबरें और भी हैं...