पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • जीटी एक्सप्रेस में निर्भया हेड कांस्टेबल ने दी रिजर्व बर्थ पर बैठने की धौंस, यात्रियों ने पीटा

जीटी एक्सप्रेस में निर्भया हेड कांस्टेबल ने दी रिजर्व बर्थ पर बैठने की धौंस, यात्रियों ने पीटा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इटारसी निर्भया की हेड कांस्टेबल रेखा मुनिया और सहकर्मी कांस्टेबल अनीता की झड़प और झूमाझटकी वैष्णो देवी दर्शन कर लौट रहे 45 सदस्यीय जत्थे में शामिल नागपुर के एक परिवार से हो गई। वे रविवार सुबह भोपाल और इटारसी के बीच जीटी एक्सप्रेस के एस-4 में यात्रा कर रहे थे। निर्भया की हेड कांस्टेबल रेखा मुनिया सामान्य टिकट पर उस कोच में यात्रा कर रही थीं। वर्दी का रौब दिखाकर उन्होंने यात्रियों से 72 नंबर की बर्थ खाली करने की धौंस दी। दोनों पक्षों के बीच कोच में गाली-गलौज और झूमाझटकी होने लगी। एक-दूसरे का सामान गैलरी में फेंक दिया। जत्थे में शामिल लोगों ने महिला हेड कांस्टेबल की पिटाई कर दी, उन्हें 11 चोट आई। जब जत्थे के महिला-पुरुष यात्री हावी होने लगे और ट्रेन से नीचे फेंकने की धमकी दी। तो घबराई महिला हेड कांस्टेबल ने इटारसी टीआई को फोन लगाया। जीआरपी ने नागपुर के जितेंद्र पटेल, उनकी प|ी हेतल पटेल व भाई मीनल पटेल पर गालीगलौज, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया। मेडिकल में हेड कांस्टेबल के शरीर पर 11 चोटें पाई गईं।

खबरें और भी हैं...