• Hindi News
  • National
  • किताबों की समीक्षा की आलोचकों ने रखे विचार

किताबों की समीक्षा की आलोचकों ने रखे विचार

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
साहित्य अकादमी मप्र संस्कृति परिषद भोपाल द्वारा गठित पाठक मंच की दूसरी बैठक सरकारी एमजीएम कॉलेज के सभागार में हुई। लेखक कमलकिशोर गोयनका की रचित प्रेमचंद्र की कहानियाें का काल क्रमानुसार अध्ययन’ व लेखक रमेशचंद्र शाह द्वारा रचित आवाहयामि’ पुस्तक की समीक्षा कर चर्चा हुई। कार्यक्रम शुरू होने से पहले डॉ. धीरेंद्र शुक्ल ने साहित्यिक अालोचक व अतिथियों का सम्मान किया। डॉ. केएस उप्पल ने कहा इस पुस्तक के शीर्षक से ही पाठक को विषयवस्तु के अलावा अत्यंत दुर्लभ तथ्यों का ज्ञान प्राप्त हो जाता है। दीपाली शर्मा, ममता बाजपेयी, राजेश दुबे, विकास दुबे सहित अन्य साहित्यिक आलोचकों ने अपने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर मनोज गुलबांके, जीपी दीक्षित, अनिरूद्ध शुक्ल, मुकेशचंद्र मैना, राजकुमार दुबे, विकास उपाध्याय, ब्रजमोहन सिंह, डाॅ. मालविका गुहा सहित कॉलेज स्टॉफ व विद्यार्थी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...