पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • स्मार्ट सिटी: मंत्री माया सिंह ने 15 मिनट में मानी 30 करोड़ की मांगें

स्मार्ट सिटी: मंत्री माया सिंह ने 15 मिनट में मानी 30 करोड़ की मांगें

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
11 साल के इंतजार के बाद साढ़े 24 करोड़ रुपए की जल आवर्धन योजना का लोकार्पण शुक्रवार काे हो गया। हाईवे पर साईं कृष्णा रिसोर्ट में योजना के शिलालेख का लोकार्पण करने आईं नगरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह इटारसी पर इतनी मेहरबान हुईं कि 15 मिनट में 30 करोड़ रुपए देने की घोषणा कर दी। फिर वे विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा व नपाध्यक्ष सुधा अग्रवाल से मुखातिब होकर बोलीं - नगरपालिका के और भी विकास के काम हों तो डीपीआर बनवाकर भिजवा दीजिए। सारे काम हो जाएंगे। इधर विधानसभा अध्यक्ष बोले - नगरपालिका में मंत्री की कृपा से काम हो रहा है। हमारे कार्यकाल के डेढ़ साल बचे हैं और नपाध्यक्ष के ढाई साल। शहर में हम एेसा काम करेंगे कि अगले चुनाव में फिर जनता के सामने आ सकें। मंत्री माया सिंह ने कहा कि पिछली बार थोड़े नंबर से स्मार्ट सिटी बनाने से चूके थे अब इटारसी को मिनी स्मार्ट सिटी बनाएंगे। चयनित होने वाले शहरों की सूची में इटारसी का नाम जुड़ गया है।

15 दिनों में आने लगेगा टंकियों में पानी

सीएमओ सुरेश दुबे ने बताया कि जल आवर्धन योजना पर 18 करोड़ रुपए खर्च करने के बाद मेहराघाट जल संयंत्र में वॉटर सप्लाई की टेस्टिंग हो गई।

स्वीकृत 32 में से 9 आवासों की अनुदान रािश बांटी
मंच पर महिला पार्षदों और महिला मोर्चा की सदस्यों ने मंत्री माया सिंह का तथा पुरुष पार्षदों और भाजपा सदस्यों की ओर से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. शर्मा का स्वागत किया। मंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना में स्वीकृत 32 में से 9 हितग्राहियों को योजना में मिलने वाली अनुदान राशि का प्रमाणपत्र भेंट किया। भाजपा जिलाध्यक्ष हरिशंकर जायसवाल, नपाध्यसुधा अग्रवाल, पिपरिया नपाध्यक्ष राजीव जायसवाल, इटारसी के नपा उपाध्यक्ष अरुण चौधरी, प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य पीयूष शर्मा आिद मौजूद थे।

मंच पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. शर्मा ने कहा जल आवर्धन योजना 2008 में शुरू हुई। इसके टेंडर निकले। नपा कांग्रेस की थी। टेंडर के बाद मेहराघाट में एक भी काम शुरु नहीं किया। पाइप तो खरीद लिए और धोखेड़ा में पटक दिए। शहर में टंकियां बनाकर खाली छोड़ दी। इसमें मामला ठीक-ठाक रहता है। उनका इशारा कमीशनखोरी की तरफ था। वे बोले, उसके बाद तत्कालीन अध्यक्ष ने पलट कर नहीं देखा। जब वहां ही काम नहीं हुआ तो ये टंकियां और पाइप लाइन किस काम केω पिछले ढाई साल में भाजपा की नपा ने काम को गति दी। ठेका कंपनी दोषियान से कई मीटिंगें की।तत्कालीन कलेक्टर संकेत भोंडवे, इटारसी एसडीएम, विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल, दोषियान के अधिकारियों और भोपाल में मुख्य अभियंता सहित नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों का एक वाट्सएप ग्रुप बनाया और योजना में रोज होने वाले कामों का फीडबैक लेना शुरु किया। इससे काम मेें तेजी आई।

मंत्री माया सिंह ने ये 5 मांगें मानी
23 करोड़ रुपए शहर में पानी की नई पाइप लाइनों का जाल बिछाने मिलेंगे।

जल आवर्धन योजना के बचे 5.54 करोड़ रुपए विशेष निधि से आ जाएंगे।

नेशनल हाईवे पर क्षतिग्रस्त पाइप लाइन बदलने 50 लाख रुपए मिलेंगे।

निर्माणाधीन खेल प्रशाल के लिए 30 लाख रुपए की राशि आ जाएगी।

शहर में ई लायब्रेरी के लिए 10 लाख रुपए दिए जाएंगे।

10 नए सफाई वाहनों को हरी झंडी दिखाई: जल आवर्धन योजना के लोकार्पण समारोह के बाद अतिथियों ने नगर पालिका परिषद के 10 नए कचरा वाहनों को हरी झंडी दिखाकर शहर में रवाना किया।

इटारसी| जल आवर्धन योजना का लोकार्पण के बाद मंच पर मौजूद मंत्री माया सिंह और अतिथि।

खबरें और भी हैं...