पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • गिरवी लाइसेंसधारी महाजनी ब्याज ही लें, दबाव न बनाएं

गिरवी लाइसेंसधारी महाजनी ब्याज ही लें, दबाव न बनाएं

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सोहागपुर| सूदखोरों के चलते किसानों व अन्य लोगों द्वारा उठाए जा रहे गलत कदमों को रोकने के लिए प्रशासन ने शुक्रवार को सराफा एसोसिएशन की बैठक नगर परिषद सभाकक्ष में की। सराफा एसोसिएशन के अलावा एक लाइसेंसधारी हैं। एसडीएम ब्रजेश सक्सेना और नगर परिषद अध्यक्ष ने लाइसेंसियों से कहा ब्याज महाजनी होना चाहिए। जिसका रिकार्ड मेनटेन करें। एसडीएम और नगर परिषद को दिखाएं। सराफा व्यवसायियों ने कहा गिरवी के लिए वो लोग आते हैं, जो हमारे ग्राहक हैं। उन्हें महाजनी ब्याज पर राशि देते हैं। जमीन पर सराफा व्यवसायी राशि ब्याज पर नहीं देते हैं। एसडीएम ने कहा दबाव की स्थिति वसूली के लिए नहीं बनना चाहिए। कर्जदार अनैतिक आचरण करने के लिए मजबूर हो। प्रशासन ने लाइसेंसधारियों को बुलाकर समझाइश दी। जो लाइसेंस नहीं है और वे जमीन के एवज में ब्याज पर राशि उधार दे रहे हैं। ऐसे सूदखाेरों का ब्याज भी आसमानी और सुल्तानी होता है। 5 प्रतिशत से 10 प्रतिशत तक। ऐसे लोगों की सूची भी प्रशासन के पास नहीं है। ये वही सूदखोर हैं, जो दबाव देकर वसूली करते हैं। इन्हें रोकने के लिए प्रशासन के पास योजना नहीं है।

खबरें और भी हैं...