पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • गंदगी देख रेलवे बोर्ड चेयरमैन बोले यह शहर का स्टेशन है या गांव का?

गंदगी देख रेलवे बोर्ड चेयरमैन बोले- यह शहर का स्टेशन है या गांव का?

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रेलवेबोर्ड के चेयरमैन अरुणेंद्र कुमार उज्जैन में सिंहस्थ की तैयारियों की समीक्षा करते हुए गुरुवार दोपहर इंदौर आए। शाम को रेलवे स्टेशन के निरीक्षण के दौरान गंदगी देख नाराज हो हुए। बोले- यह इंदौर शहर का स्टेशन है या गांव का?

स्टेशन परिसर का निरीक्षण करते हुए वे महू एंड (जहां ट्रेन का आखिरी कोच) तक गए। डेड एंड पर मिट्टी और गंदगी को देख रेलवे अधिकारियों पर नाराज हुए। उन्होंने पार्क रोड पर बन रही नई स्टेशन बिल्डिंग-प्लेटफॉर्म के काम में हो रही लेटलतीफी पर भी नाराज जताई। इंदौर-महूके बीच बड़ी लाइन का काम दिसंबर से- चेयरमैनने कहा इंदौर-महू के बीच बड़ी लाइन का काम जल्द से जल्द शुरू किया जाएगा। संभावनाएं है कि दिसंबर के आखिरी सप्ताह से रेलवे ब्लॉक लेगा।संवाददाताओं से चर्चा में उन्होंने कहा- इंदौर-दाहोद के लिए बजट की जरूरत है।

बाहरतक हो अनाउंसमेंट

>अनाउंसमेंट सिस्टम ऐसा हो कि बाहर तक अनाउंस हो।

> स्टेशन के टिकट विंडो पर भीड़ कम से कम हो, इसके लिए जगह-जगह टिकट काउंटर खोले जाएंगे।

> रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने उज्जैन-फतेहाबाद ट्रैक का गेज परिवर्तन मार्च 2015 में बजट घोषित होने पर इस काम को प्राथमिकता से करने का आश्वासन दिया है।