• Hindi News
  • Both Much Love Minor Squabbles Worst Enemy Madhya Pradesh

दोनों में था इतना प्यार फिर भी मामूली कलह बन गया जान का दुश्मन

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पत्नी प्रियंका और सास-ससुर की हत्या करने के बाद डॉक्टर रोहित को सब कुछ खत्म नजर आ रहा था। फिर भी वह रातभर जरूरी काम निपटाता रहा। यहां तक कि रात एक बजे राऊ गया। वहां उसने सोनोग्राफी सेंटर खाली किया और चाबी व मकान मालिक के नाम पत्र पड़ोस में देकर लौटा।
इंदौर. पत्नी, सास-ससुर की हत्या के बाद डॉक्टर रोहित रात में ही राऊ गया था। वहां जाकर अपने सोनोग्राफी सेंटर को खाली कराया। इसके बाद वह फ्लैट पर लौटा और सुसाइड नोट लिखा। सुबह पिता से बात करने के बाद फांसी लगा ली।
तुकोगंज पुलिस के मुताबिक डॉ. रोहित द्विवेदी का सोनोग्राफी सेंटर राऊ के नयापुरा में मैक्स सोनोग्राफी सेंटर के नाम से था।
शनिवार रात एक बजे रोहित कार से राऊ गया और मकान मालिक सुरेश चौधरी को कॉल लगाया। उसने कहा मुझे अचानक रीवा जाना पड़ रहा है, इसलिए मैं सेंटर बंद कर रहा हूं। सुरेश ने उसे बताया कि मैं उज्जैन में हूं। पास में रहने वाले कमल खाती को भवन की चाबी दे देना।
स्लाइड क्लिक कर देखें पूरी खबर...