• Hindi News
  • Boy Ran To Catch Kite But He Meet To Death

वह पतंग पकडऩे गया था, टूट गई जिंदगी की डोर

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर। मकर संक्रांति के चलते सोमवार शाम लोधीपुरा में पतंगबाजी चल रही थी। यह नजारा चौथी मंजिल पर खड़ा बालक देख रहा था। एक पतंग कटकर उसकी छत की ओर आई। वह पकडऩे दौड़ा तो नीचे गिर गया। पड़ोसी उसे अस्पताल ले गए लेकिन उसकी मौत हो गई।

बच्चे को पड़ोसी ले गए अस्पताल : विनायक के गिरने की आवाज सुन पड़ोसी नीलेश नीमा व बबलू शर्मा वहां पहुंचे। उसे खून में लथपथ देख सीने से लगाए एमवाय अस्पताल पहुंचे। वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। छत्रीपुरा पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है।

पिता के काम में भी हाथ बंटाता था- विनोद के परिवार में पत्नी व एक बेटी साक्षी और दो बेटों में एक विनायक था। चचेरे भाई माधव ने बताया विनायक मल्हारगंज के निजी स्कूल में नौवीं में पढ़ता था। वह पिता के काम में भी हाथ बंटाता था।

डोर पकड़ने दौड़ा बच्चा ऑटो से टकराया

वहीं दोपहर राजकुमार ब्रिज से गुजर रहा नौ वर्षीय बच्चा पतंग लूटने दौड़ पड़ा। वह पतंग पकड़ पाता उससे पहले ही ऑटो ने टक्कर मार दी। उसके हाथ में चोट आई। ऑटो वाला भाग गया। हादसा देख भीड़ लग गई। बाद में बच्चा भी घबराकर भाग निकला। मल्हारगंज पुलिस के मुताबिक क्षेत्र में एक टॉकिज की छत पर कुछ युवक डीजे लगाकर पतंग उड़ा रहे थे। अचानक टीनशेड धंस गया। इसमें नदीम, बिलाल, सोयब, नदीम व फरीद घायल हो गए।