पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Fixing And Violence In India's Dancing Competition!

इंडियाज डांसिंग स्पर्धा में फिक्सिंग और मारपीट!

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर। मांगलिया स्थित विद्या भवन स्कूल में रविवार को इंडियाज डांसिंग सुपर स्टार के लिए हुई चयन प्रतियोगिता में विवाद हो गया। एक ग्रुप ने प्रबंधकों पर फिक्सिंग का आरोप लगाया। उनका कहना था कि कुछ लड़कों को सीधे इंट्री देने पर आपत्ति ली तो बाउंसरों ने लात-घूंसों से पीट दिया। उधर, आयोजकों ने मारपीट से इनकार किया है।
प्रतियोगिता में शहर के अलावा मंदसौर, दमोह, बड़वाह, ग्वालियर, जबलपुर व महाराष्ट्र के करीब पांच हजार से अधिक युवक-युवतियां हिस्सा लेने आए थे। कुछ प्रतियोगी रातभर से स्कूल के सामने आकर बैठ गए थे। यहां सुबह छह बजे से कलाकारों (डांसर्स) की लाइन लग गई।
सुबह 8 बजे प्रतियोगियों की इंट्री शुरू हुई, जो दोपहर ढाई बजे तक चली। सिलेक्टर्स (जज) ने किसी का चयन कर खुश किया तो कुछ बाहर होने से निराश हो गए। इस बीच दोपहर एक बजे मल्हारगंज के रिद्म ग्रुप के डांसर्स का आयोजक फ्यूजन इवेंट कंपनी के प्रबंधकों से विवाद हो गया। इस पर ग्रुप को प्रतियोगिता से बाहर कर दिया गया।
फिक्सिंग कर सीधे इंट्री दे रहे थे
ग्रुप के सदस्य आशीष वर्मा का आरोप है हम सुबह छह बजे से लाइन में लगे थे। इस बीच कुछ प्रतियोगियों को सीधे इंट्री दी जा रही थी। आपत्ति ली तो मुझे भीतर बुलाकर पांच लोगों ने पीट दिया। बीच-बचाव करने आए पुलकित अग्रवाल, आनंद भोंसले और कुंदन चंद्रवंशी को बाउंसरों ने बाहर निकाल दिया। लड़कियों से भी अभद्रता की। ग्रुप के डायरेक्टर जितेंद्र अग्रवाल का आरोप है आयोजक कंपनी ने प्रतियोगिता पहले से ही फिक्स कर रखी थी। प्रत्यक्षदर्शी महिला ने बताया यहां कुछ बच्चे तो लाइन में ही लगे रहे लेकिन कुछ को सीधे इंट्री मिल गई। उनका आरोप है कि डांसर बलवीर का ग्रुप लाइन में नहीं लगा। बावजूद वे सीधे अंदर चले गए, जबकि बलवीर ने बताया हम 11 बजे आ गए थे। सीधे इंट्री नहीं ली। हम भी घंटों लाइन में खड़े रहे।
पुलिस से की शिकायत
सभी सदस्य शिकायत करने मांगलिया चौकी पहुंचे। पुलिस ने आवेदन तो ले लिया लेकिन मेडिकल नहीं कराया। आशीष ने मेडिकल कराने का कहा तो पुलिसकर्मियों ने यह कहते हुए रवाना कर दिया कि हम अपनी कार्रवाई कर लेंगे।
मुंबई में दिखाएंगे प्रतिभा - स्पर्धा दो लेवल में थी। यहां से चयन के बाद प्रतियोगी मुंबई में प्रतिभा दिखाएंगे।
वे गाली देने लगे
हमने किसी भी ग्रुप के सदस्यों से मारपीट नहीं की। एक ग्रुप के सदस्यों से बहस जरूर हुई थी लेकिन वे हमारे कर्मचारियों के साथ गाली-गलौज कर रहे थे। हमने उन्हें बाहर कर दिया।
मोहित भार्गव, डायरेक्टर, फ्यूजन इवेंट कंपनी