पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मरीजों को रोज क्यों नहीं मिलती ऐसी जबरदस्त व्यवस्था?

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर। सारे वार्ड चकाचक, बेड पर साफ-सुथरी चादरें, फर्श इतना साफ कि चेहरा दिख जाए। हर वार्ड में नर्स, विभागाध्यक्ष से लेकर पीजी डॉक्टर तक ड्यूटी पर दिखा। ऐसा लगा मानो किसी प्राइवेट अस्पताल में खड़े हैं, लेकिन यह नजारा था एमवाय अस्पताल था। दरअसल, ये सारी तैयारियां की गई थी एमसीआई (मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया) टीम के निरीक्षण के मद्देनजर। एमबीबीएस सीटों की मान्यता के डर से ये इंतजामात किए थे, जो अमूमन आमतौर पर मरीजों को नसीब नहीं होते हंै। गंदगी से पटे रहने वाले वार्डो में सफाई व्यवस्था चाक-चौबंद रही। टीम सबसे पहले ओपीडी पहुंची। वहां ऐसा लग रहा था कि जैसे कर्मचारियों में सफाई करने की होड़ लगी हो। हालांकि हमेशा की तरह सीनियर डॉक्टर तय समय पर पहुंचे ही नहीं। इसके बाद टीम के डॉ. प्रियांशु मोहंती ने पुरानी बिल्डिंग में छठी मंजिल स्थित नेत्र रोग विभाग के वार्ड और ओटी की स्थिति देखी। पूर्व अधीक्षक ने संभाला मैदान एमसीआई टीम के मुआयना के समय अधीक्षक डॉ. वी.एस. भाटिया नजर नहीं आए। पूर्व अधीक्षक डॉ. सलिल भार्गव और शिशु रोग विभागाध्यक्ष डॉ. शरद थोरा ने व्यवस्थाओं के बारे में बताया। नेत्र रोग विभाग के वार्ड के निरीक्षण के समय डीन डॉ. पुष्पा वर्मा भी मौजूद थीं। निडिल कटर खराब बाद में टीम जीपीओ स्थित पीसी सेठी हॉस्पिटल पहुंची तो हर कोई चौंक गया। बाद में माजरा समझ आया कि इस अस्पताल को कॉलेज से संबद्ध कम्युनिटी मेडिसिन विभाग का ट्रेनिंग सेंटर बताया गया था, इसलिए टीम वहां भी निरीक्षण करने पहुंच गई। वहां टीकाकरण हो रहा था लेकिन निडिल कटर खराब था। नर्से टीकाकरण के बाद निडिल ऐसे ही डस्टबिन में डाल रही थीं। बड़ा सवाल शनिवार को एमवाय अस्पताल का नजारा देखने के बाद यह तो तय है कि अस्पताल के पास न तो मैन पॉवर की कमी और न ही संसाधनों की। जब मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम के निरीक्षण के समय यह सब हो सकता है कि तब फिर आम दिनों में क्यों नहीं? ऐसा था शनिवार का नजारा - सफाई चाक-चौबंद। दिनभर कर्मचारी सफाई करते नजर आए। - वार्डो में बेड पर बकायदा साफ चादरें बिछी थी। - क्रीम रंग का फर्श ऐसा चमक रहा था कि मुंह देख लो। - हर कमरे में नर्से थीं। ड्यूटी डॉक्टर भी एप्रिन में तैनात थे। - वैसे तो मरीज के परिजन की भीड़ बेतरतीब रहती है लेकिन दौरे के समय सभी को बाहर कर दिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

और पढ़ें