पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेडिकल छात्रों में खूनी संघर्ष, सात घायल

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर। एमजीएम मेडिकल कॉलेज में समन पढ़ने को लेकर दो छात्रों में विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि दो गुटों में संघर्ष हो गया जिसमें सात छात्र घायल हो गए। दोनों पक्षों ने एमवाय की केजुअल्टी में भी हंगामा किया। थाने में उनमें समझौता हो गया।
पुलिस के मुताबिक गुरुवार को कॉलेज में डॉ. महेंद्र शर्मा (फैकल्टी) फोरेंसिक की क्लास चल रही थी। इसमें छात्रों को कोर्ट द्वारा जारी किए जाए जाने वाले समन के बारे में समझाया जा रहा था। एक छात्र ने समन देखने के लिए दूसरे से छीन लिया। दोनों छात्र क्लास से निकले और मच्र्युरी में झगड़ पड़े।
उनमें कॉलेज के गार्डन में भी कहा-सुनी हुई। शुक्रवार को होस्टल के छात्रों ने शिकायतकर्ता छात्रों से कहा शिकायत वापस ले लो। वे नहीं माने तो दोनों गुट आमने-सामने हो गए। दोनों पक्षों से करीब 30 छात्र इकट्ठा हुए और मारपीट करने लगे। एसआई के मुताबिक विवाद में डे-स्कॉलर्स आकाश, मयंक, ऋषिकेश, अनिल, रविकुमार, मोनू व योगेश और होस्टलर्स देवेंद्र कौशिक व जयप्रकाश मिश्रा घायल हुए हैं।
होस्टलर्स व डे-स्कॉलर्स में बढ़ा झगड़ा
बताया जा रहा है यह झगड़ा होस्टलर्स और डे-स्कॉलर्स (होस्टल में नहीं रहने वाले छात्र) के बीच का मुद्दा हो गया। गुरुवार को ही होस्टल के छात्रों ने समन छीनने की बात पर एक छात्र को कहा ज्यादा स्मार्ट बन रहा है। तुझे देख लेंगे। इसके बाद डे-स्कॉलर्स एक वरिष्ठ डॉक्टर से मिले जिन्होंने इसकी लिखित शिकायत करने के लिए कहा। अगले दिन सुबह छात्र डीन को शिकायत करने पहुंचे। फिर मामले ने तूल पकड़ लिया।
थाने में हाथ मिलाया
विवाद के बाद दोनों पक्ष घायल छात्रों को लेकर एमवाय अस्पताल पहुंचे। पुलिस मेडिकल करवाकर घायलों को थाने लेकर पहुंची। फिर डीन ने डॉ. महेंद्र शर्मा को थाने भेजा। उनके समझाने पर छात्रों ने समझौता कर लिया और हाथ मिलाकर लौट गए।