पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • नाले में बहे व्यापारी का शव तीन किमी दूर मिला, घरों में घुसा पानी

नाले में बहे व्यापारी का शव तीन किमी दूर मिला, घरों में घुसा पानी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | झाबुआ/थांदला

गुरुवार रात एक घंटे हुई बारिश थांदला में लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी। कई घरों में पानी घुस गया। रहवासी रातभर नहीं सो पाए। वहीं घुघरी-रतलाम के बीच उफनते नाले में बहे व्यापारी का शव शुक्रवार सुबह तीन किमी दूर मिला। 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश थांदला में सबसे ज्यादा 93.8 मिमी (3.7 इंच) व सबसे कम रामा में 15 मिमी बारिश दर्ज की गई।

एमजी रोड पर पानी निकासी नहीं होने से पूरा क्षेत्र जलमग्न हो गया। रितुराज काॅलोनी के मकानों व दुकानों में पानी घुस गया। बावड़ी मंदिर, अष्ट हनुमान मंदिर कॉम्पलेक्स व इसके सामने की दुकानें भी पानी-पारी हो गई। घरों के बर्तन पानी में बहकर बाहर आ गए। फ्रिज, कूलर, जल मग्न हो गए। नासिर मोहम्मद शेख, सद्दाम शेख, संतोष पंचाल, अकील शेख के मकानों व दुकानों में पानी ही पानी नजर आ रहा था। सारा पानी खाली प्लाटों से बाहर आता है। रहवासी पूरी रात पानी निकालते रहे।

दुकानों में घुसा पानी, अनाज भीगा : नवापाड़ा से तेज बहाव से आने वाले पानी की निकासी नहीं होने से हर बार ऐसे हालात बनते हैं। इससे दुकानों में पारी भरने से व्यापारियों को नुकसान उठाना पड़ता है। मछली बाजार के समीप बह रहे नाले को पूरी तरह ढंक दिए जाने से व जल निकासी के अभाव के चलते आबकारी आॅफिस की समीप की दुकानों में भी बारिश का पानी घुल गया। अनाज व्यापारी अजय सेठिया ने बताया दुकान में रखा सारा अनाज भीग गया। इससे काफी नुकसान हुआ है।

थांदला. गुरुवार रात हुई बारिश से ऐसे घरों में पानी भरा गया।

संतुलन बिगड़ने से नाले में बह गया था व्यापारी
रतलाम के कपड़ा व्यापारी सुरेश मकवाना गुरुवार को सारंगी में हाट बाजार करने आए थे। शाम को बारिश के दौरान मोटरसाइकिल (एमपी-43-एमजे-5889) से रतलाम जा रहे थे। तभी घुघरी-रतलाम के बीच कुंडीपाड़ा नाला उफान पर आ गया। सुरेश ने बहते नाले से बाइक निकाली। संतुलन बिगड़ने से वे नाले में बह गए। मोटरसाइकिल रात में ही मिल गई। लेकिन काफी तलाश के बाद भी शव का पता नहीं चला। शुक्रवार सुबह घटना स्थल से तीन किमी दूर उकाला नाला में शव देखकर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। शव के साथ एक बैग भी मिला है जिसे ग्रामीण नरसिंह निनामा ने परिजन को सौंप दिया। बताया जा रहा है उसमें करीब डेढ़ लाख रुपए थे। उधर, जिस पुलिया पर दुर्घटना हुई तेज बारिश में उसकी साइड पट्टी बह गई।

चार दिन तेज बारिश की संभावना : झाबुआ में गुरुवार रात 11 बजे तक बारिश चलती रही। शुक्रवार सुबह मौसम खुला रहा। शाम चार बजे तेज बारिश हुई। करीब आधे घंटे तक बारिश क्रम चला। इसके बाद फिर मौसम खुल गया। मौसम वैज्ञानिक डॉ. आरके त्रिपाठी ने बताया चार दिन बारिश की संभावना है। 23 जुलाई को 65 मिमी, 24 काे 32, 25 को 15 व 26 जुलाई को मिमी बारिश होने के आसार है।

कहां कितनी बारिश
विकासखंड 24 घंटे में अब तक गत वर्ष

झाबुआ 25 377.2 258.8

रामा 15 413.3 429

थांदला 93.8 274.4 186.9

पेटलावद 81.6 398.4 215.4

राणापुर 17 342.8 333

मेघनगर 76 359 182.8

औसत 51.4 360.8 267.6

खबरें और भी हैं...