पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • िनगम सख्त, निलंबन की तैयारी परिषद ने साढ़े 3 घंटे सफाई की

िनगम सख्त, निलंबन की तैयारी परिषद ने साढ़े 3 घंटे सफाई की

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सफाईकर्मचारियों की हड़ताल पर निगम प्रशासन सख्त हो गया है। निलंबन की तैयारी कर ली है। अवकाश के नाम पर अवैध रूप से हड़ताल करने पर कर्मचारी संघ के तीन पदाधिकारियों को निलंबित करने की कार्रवाई की जा रही है। हड़ताल जारी रहने पर एमआईसी की आपात बैठक कर 100 कर्मचारी ठेके पर रखे जाएंगे। वेतन काटकर भुगतान किया जाएगा। निगम अफसरों और पदाधिकारियों ने हड़ताल के आगे झुकते हुए खुद सफाई शुरू कर दी है। शुक्रवार को महापौर सुभाष कोठारी और आयुक्त एसआर सोलंकी के साथ पार्षदों आम लोगों ने सफाई की। सुबह 8 बजे से 11.30 बजे तक चले अभियान में अफसरों और पदाधिकारियों ने नालियों में फंसा कचरा हटाया। सफाई कर्मचारियों की हड़ताल के कारण तीन दिन से सफाई नहीं हुई थी। बस स्टैंड, बुधवारा, बांबे बाजार, जलेबी चौक और कहारवाड़ी क्षेत्र में सफाई की गई। करीब पांच डंपर कचरा अलग-अलग क्षेत्रों से उठाया गया। शनिवार को भी जनसहयोग से सुबह 8 से 9.30 तक सफाई होगी।

आज यहां सफाई

गांधीभवन के पास स्टेशन रोड, तीन पुलिया, इमलीपुरा।

महापौरको गुलाब

हड़तालपर बैठे कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने महापौर को गुलाब का फूल भेंट किया।

विधायक देवेंद्र वर्मा की मध्यस्तता से होंगे हड़ताल समाप्ति के प्रयास

शुक्रवारशाम सिविल लाइंस जोन कार्यालय में महत्वपूर्ण बैठक हुई। पार्षदों ने कर्मचारियों को चर्चा के लिए एक और मौका देने की मांग की। विधायक की मध्यस्तता से समस्या निराकरण का सुझाव दिया। महापौर सुभाष कोठारी ने कहा नियमानुसार जो भी संभव होगा करेंगे। विधायक देवेंद्र वर्मा ने कहा नियमितिकरण के लिए शासन को प्रस्ताव भेजेंगे। आयुक्त ने बताया सुबह ट्रेचिंग ग्राउंड पर कचरा डालने गए दो कर्मचारियों से मारपीट की। उन्हें धमकाया। मारपीट करने वालों के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए कहा है।

‘आस’ और कांग्रेस ने कर्मचारी संघ को दिया समर्थन, जारी रहेगी हड़ताल

हड़तालपर बैठे कर्मचारियों को आम आदमी संगठन और कांग्रेस ने समर्थन दिया है। कांग्रेस नेता अजय ओझा ने कर्मचारियों से संपर्क कर सहयोग का भरोसा दिलाया। आस के प्रदेश प्रवक्ता पीयुष भंसाली, अब्बास अली और अनिल सक्सेना ने भी समर्थन दिया। आस प्रदेश प्रवक्ता ने कहा स्कूली बच्चों को परीक्षा के समय सफाई हेतु बुलाना ठीक नहीं है। मप्र सफाई मजदूर विकास महासंघ के नगर अध्यक्ष इंदल पहलवान नरवाले और महामंत्री छोटे लाल भगत ने बताया मांगों का निराकरण होने तक हड़ताल जारी रहेगी।

कहारवाड़ी में कचरा घर के पास फैले कचरे को महापौर सुभाष कोठारी, पार्षद इकबाल कुरैशी और अन्य ने हटाया।

{स्थायीकरण : निगम का अभिमत स्थापना व्यय अधिक होने के साथ शैक्षणिक योग्यता की अनिवार्यता के कारण निराकरण संभव नहीं।

{सेवानिवृत्त पर परिवार के सदस्य को काम : स्वीकृत 420 पद के विरुद्ध 602 कार्यरत है। दैवेभो एवं ठेका पर कार्यरत कर्मी हटाने के बाद ही ऐसा किया जा सकता है।

{नया सेटअप निरस्ती : 100 मकान पर एक कर्मी का प्रावधान है। 8 घंटे काम हाेने पर आसानी से लागू किया जा सकता है। इसे निरस्त करना संभव नहीं है।

{आबादी अधिक होने से नियुक्ति करके की मांग पर निगम का अभिमत है पहले ही अधिक कर्मचारी काम कर रहे हैं। मांग मानना संभव नहीं।