• Hindi News
  • National
  • 6 साल बाद कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव कराने पर राजी हुई सरकार, 30 को होगा मतदान

6 साल बाद कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव कराने पर राजी हुई सरकार, 30 को होगा मतदान

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शासन ने छात्राओं के लिए किया छात्रसंघ चुनाव में सभी पदों में 50 फीसदी आरक्षण

भास्कर संवाददाता | खंडवा

कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव कराए जाने को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के आंदोलन के दूसरे दिन शनिवार को शासन से तारीख की घोषणा कर दी। छह साल बाद कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव कराने पर सरकार आखिरकार राजी हुई। 2011-12 में छात्रसंघ के गठन के बाद से कॉलेज में चुनाव कराने की बात को सरकार टालती रही। शनिवार को शासन ने कॉलेज में चुनाव कराने की जानकारी जारी की। इसके तहत कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव 30 अक्टूबर को होंगे। छात्रसंघ के सभी पदों के लिए छात्राओं को शासन ने 50 फीसदी आरक्षण की घोषणा की।

छात्रसंघ चुनाव की प्रक्रिया 23 अक्टूबर से शुरू होगी। मतदान, मतगणना एवं परिणामों की घोषणा 30 अक्टूबर को होगी। उच्च शिक्षा विभाग ने गृह विभाग के परामर्श से छात्रसंघ चुनाव की आचार संहिता एवं विस्तृत रूपरेखा तैयार कर ली है। चुनाव प्रक्रिया के अंतर्गत सभी विद्यार्थी अपनी-अपनी कक्षाओं के लिए प्रत्यक्ष निर्वाचन प्रणाली से कक्षा प्रतिनिधि का निर्वाचन करेंगे। निर्वाचित कक्षा प्रतिनिधि महाविद्यालय के छात्रसंघ पदाधिकारी के विभिन्न पदों के लिए नामांकन भर सकेंगे। निर्वाचित कक्षा प्रतिनिधि महाविद्यालयीन पदाधिकारी के पदों के लिए मतदान करेंगे। यह चुनाव प्रत्येक कक्षा के कक्षा-प्रतिनिधि एवं प्रत्येक महाविद्यालय के लिए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव एवं सह-सचिव पदों के लिए होंगे। छात्रसंघ चुनाव की घोषणा पर अभाविप के प्रांत सहमंत्री संदीपसिंह चौहान, जिला संयोजक कपिल अंजने, जिला सह-संयोजक शिवांश ओझा, नगर मंत्री शांतम दुबे, जिला प्रमुख माधव झा, सिद्धार्थ नेगी, शुभम पटेल, गजेंद्र यादव, हेमंत माहेश्वरी, अनुराग यादव, आशीष बड़ोलिया ने खुशी व्यक्त की।

खबरें और भी हैं...